जागरण टीम, पटना। बिहार के मुख्यमंत्री मंगलवार को दिल्ली जा रहे हैं। देश की राजधानी जाने को लेकर नीतीश कुमार के प्लान पर बिहार में सियासी अटकलें तेज हो गई हैं। नरेंद्र मोदी मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर नीतीश का यह दौरा अहम माना जा रहा है। वहीं दिल्ली जाने से पहले सीएम नीतीश कुमार कैबिनेट की मीटिंग करेंगे। मंगलवार को मंत्रिपरिषद की बैठक होगी। हालांकि जदयू सांसद ललन सिंह ने नीतीश कुमार के दिल्ली जाने को व्यक्तिगत कारण बताया है। इधर, सोमवार को जदूय के राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह ने कहा है कि पार्टी केंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल होने को लेकर तैयार है। 

आरसीपी सिंह ने सोमवार को कहा कि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) से हमारा पुराना संबंध रहा है। जनता दल यूनाइटेड (जदयू) केंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल होने के लिए तैयार है। नामों को लेकर फैसला नीतीश कुमार के हाथ में है। आरसीपी ने कहा कि जदयू में सबकी राय के बाद ही कोई फैसला होता है। खुद के मंत्री बनने को लेकर आरसीपी ने कहा कि मेरा नाम तो 2017 से ही आता रहा है। कयास लगाने से बेहतर है कि इंतजार किया जाए। जदयू ने कहा कि नरेंद्र मोदी कैबिनेट में जदयू के शामिल होने से माहौल और भी ज्यादा बेहतर होगा। आरसीपी ने कहा कि हम केंद्र और बिहार दोनों जगह रहेंगे, इससे राज्य और देश में हमारी भागीदारी बढ़ेगी। 

आंखों का इलाज कराने जा रहे नीतीशः ललन सिंह

इधर, जदयू सांसद ललन सिंह ने नीतीश कुमार का दिल्ली दौरा राजनीति से हटकर होने की बात की है। ललन ने कहा कि अटकलबाजी पर राजनीति नहीं होती। उन्होंने कहा कि नीतीश अपने निजी कार्य से दिल्ली जा रहे हैं। ललन सिंह ने कहा कि नीतीश आंखों का इलाज कराने के लिए देश की राजधानी जा रहे हैं। इसका केंद्रीय मंत्रिमंडल के विस्तार से कोई लेना देना नहीं है। मंत्रिमंडल विस्तार और मंत्रिमंडल में शामिल होने पर जदयू सांसद ललन सिंह ने कहा कि मंत्रिमंडल विस्तार पीएम मोदी का विशेषाधिकार। मंत्रिमंडल विस्तार में किसी का हस्तक्षेप नहीं हो सकता। जब पीएम को लगेगा तभी मंत्रिमंडल विस्तार होगा।

Edited By: Akshay Pandey