पटना [जेएनएन]। होली के दौरान अश्लीलता फैलाने व नशे की हालत में पकड़े जाने वालों की खैर नहीं होगी।राज्य पुलिस मुख्यालय ने सूबे के सभी जिलों व रेल जिलों के पुलिस अधीक्षकों को होली के दौरान विधि-व्यवस्था बनाए रखने तथा गड़बड़ी करने वाले तत्वों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का फरमान जारी कर दिया है। पुलिस अधीक्षकों से यह भी स्पष्ट कर दिया गया है कि यदि उनके जिले के किसी भी थानाक्षेत्र में शराब के निर्माण, खरीद-बिक्री या उसके सेवन की सूचना मिलती है तो तत्काल संबंधित थानाध्यक्षों के खिलाफ कार्रवाई की जाए।

गृह विभाग ने केंद्र सरकार से दस कंपनी रैपिड एक्शन फोर्स (आरएएफ) की भी मांग की है। लेकिन देश के पांच राज्यों में हो रहे चुनाव और मतगणना के नतीजों को लेकर रैफ की उपलब्धता फिलहाल संभव नहीं दिख रही है। सभी जिलों के एसपी से कहा गया है कि वे अपने-अपने जिलों के सभी संवेदनशील स्थलों की पहले से पहचान करके वहां पर्याप्त संख्या में पुलिस बल की तैनाती करें। साथ ही रेल यात्रियों की सुरक्षा के लिए सभी ट्रेनों में सुरक्षा बल की तैनाती के भी निर्देश दिए गए हैं। 
राज्य के अपर पुलिस महानिदेशक (मुख्यालय) सुनील कुमार ने कहा कि होली के दौरान विधि-व्यवस्था बनाए रखने तथा अश्लील गाने बजाने वालों के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दे दिए गए हैं। साथ ही चोरी-छुपे शराब के निर्माण, उसके सेवन तथा खरीद-बिक्री को लेकर विशेष शाखा को भी अलर्ट कर दिया गया है। 
होली को लेकर पुलिस मुख्यालय ने राज्य के सभी पुलिस पदाधिकारियों और कर्मियों के अवकाश आगामी 10 से 15 मार्च तक रद कर दिया है। पुलिस मुख्यालय ने इस संबंध में राज्य के सभी जोनल आइजी, रेंज डीआइजी व जिलों के एसपी को निर्देश जारी कर दिया है।

यह भी पढ़ें:    BSSC SCAM : प्रिंटिंग प्रेस के सर्च वारंट के खिलाफ गुजरात हाईकोर्ट में याचिका

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021