पीरो (भोजपुर), संवाद सहयोगी। भोजपुरी गीतों में फूहड़ता और अश्‍लीलता को सफलता का शार्टकट बनाने वाले गायकों को इस खबर से सावधान हो जाना चाहिए। भोजपुर जिले की पीरो पुलिस ने एक गायक को ऐसा करने पर पकड़ कर जेल भेज दिया है। कुछ ही महीने पहले वैशाली जिले की पुलिस ने भी एक भोजपुरी गायक को गिरफ्तार किया था। कुछ हफ्ते पहले भोजपुरी की सुपर स्‍टार अक्षरा सिंह ने ऐसे ही एक मामले में प्राथमिकी पटना के थाने में दर्ज कराई थी। अभी इस मामले में जांच चल रही है। यूं तो भोजपुरी गीतों की आड़ में अश्‍लीलता फैलाने में बड़े गायक भी पीछे नहीं हैं, लेकिन उनके खिलाफ ठोस कार्रवाई नहीं होने से ही नए लड़के ऐसा करने को प्रेरित होते हैं।

जाति विशेष पर अपमानजनक टिप्‍पणी करने का आरोप

बिहार के भोजपुर जिले के पीरो में भोजपुरी गीत के माध्यम से जाति विशेष पर आपत्तिजनक टिप्पणी करना एक गायक को काफी महंगा पड़ गया है। उक्त मामले में लिखित शिकायत मिलने के बाद अगिआंव बाजार थाना की पुलिस ने आरोपी युवक विकास कुमार को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। आरोपी युवक विकास कुमार अगिआंव बाजार थाना के लहठान गांव का निवासी है। इस संबंध में प्राप्त जानकारी के अनुसार आरोपी युवक भोजपुरी गीत गाने का शौक रखता है। बताया जाता है कि विकास द्वारा एक भोजपुरी गीत की रिकार्डिंग कराकर उसे इंटरनेट मीडिया पर वायरल किया गया है, जिसमे कुछ जाति विशेष पर आपत्तिजनक टिप्पणी की गई है।

गीत वायरल होने के बाद गांव में तनाव

उक्त गीत वायरल होने के बाद लहठान गांव में तनाव की स्थिति बन गई और करीब डेढ़ सौ की संख्या में ग्रामीणों ने इस मामले में लिखित शिकायत अगिआंव बाजार थाना में देकर तत्काल कार्रवाई की मांग की। मामले की गंभीरता को देखते हुए अगिआंव बाजार थानाध्यक्ष ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया। इस बावत अगिआंव बाजार थानाध्यक्ष ब्रजेश कुमार ने बताया कि आरोपित युवक के विरुद्ध कई धाराओं में प्राथमिकी दर्ज कर उसे जेल भेज दिया गया है। बता दें कि इन दिनों भोजपुरी गीतों में अश्लीलता और भौंडापन चरम पर है।