पटना, जागरण संवाददाता। Pitrupaksha 2021 कोरोनावायरस संक्रमण (CoronaVirus Infection)  की दूसरी लहर के बाद अनलाक (Bihar Unlock) हुए बाजार में धीरे-धीरे तेजी आ रही है। कारोबारियों को दुर्गा पूजा, दीपावली तथा छठ महापर्व को लेकर बेहतर बाजार होने की उम्मीद है। सितंबर माह में पितृपक्ष (Pitrupaksha) आरंभ हो गया है। ऐसे में पितृपक्ष को लेकर दान करने वाली वस्तुओं की खरीदारी शुभ मानी जाती है। खरीदारी को लेकर कई शुभ मुहूर्त भी बन रहे हैं। पितृपक्ष के दौरान नए व्यापार का आरंभ, भूमि-भवन, आभूषण, वाहन व विशेष वस्तुओं की खरीदारी शुभ मानी जाती है। ज्योतिषाचार्य पंडित राकेश झा ने पंचांगों के हवाले से बताया कि सितंबर व अक्टूबर माह में खरीदारी को लेकर कई शुभ मुहूर्त बन रहे हैं।

सर्वार्थ सिद्धि योग की तिथियां

शादी या अन्य शुभ कार्य की खरीदारी  

  • शुभ योग मुहूर्त: अक्टूबर 07, 13, 14  

  • आयुष्मान योग: अक्टूबर 10
  • सौभाग्य योग: अक्टूबर 11
  • वृद्धि योग: अक्टूबर 17

भूमि-भवन, मकान या फ्लैट  (खरीदारी या निबंधन)

  • सिद्धि योग: सितंबर  30, अक्टूबर 22
  • रोहिणी नक्षत्र: करवा चौथ 24 अक्टूबर
  • द्विपुष्कर योग: सितंबर  28
  • पुष्कर योग: अक्टूबर 28  
  • सर्वसिद्धि मुहूर्त: विजयादशमी 15 अक्टूबर  
  • रवियोग: सितंबर 26, 28 अक्टूबर 08 ,09 , 10 , 12 , 16 , 18 , 19 , 27 , 28

खरीदारी (आभूषण, रत्न, वाहन, विद्युतीय उपकरण, वस्त्र)

  • सिद्धि योग: 30 सितंबर, 22 अक्टूबर  
  • जयद योग: सितंबर 23, 30 तथा अक्टूबर  2, 10 , 16 , 21 , 23 , 29 , 30 ,
  • सिद्ध योग: सितंबर  28 तथा अक्टूबर  23, 27, 30  
  • रवियोग: सितंबर 26, 28 तथा अक्टूबर 08 ,09 , 10 , 12 , 16 , 18 , 19 , 27 , 28
  • शुभ योग मुहूर्त: 7अक्टूबर,13 , 14  

  • द्विपुष्कर योग: 28 सितंबर
  • आयुष्मान योग: 10 अक्टूबर
  • सौभाग्य योग: 11 अक्टूबर
  • पुष्कर योग: 28  अक्टूबर
  • सर्वसिद्धि मुहूर्त: विजयादशमी 15 अक्टूबर  
  • धनिष्ठा नक्षत्र: 16 अक्टूबर
  • वृद्धि योग:  17 अक्टूबर
  • हर्षण योग: शरद पूॢणमा 20 अक्टूबर
  • रोहिणी नक्षत्र: करवा चौथ 24 अक्टूबर

Edited By: Amit Alok