पटना, आनलाइन डेस्क। पटना वाले खान से सर किसी पहचान के मोहताज नहीं हैं। उनके पढ़ाने के स्टाइल और संघर्ष भरे जीवन के छात्र कायल हैं। इंटरनेट मीडिया पर खान सर का दबदबा देखने को मिलता है। बिहार के कोने-कोने से छात्र उनसे पढ़ने के लिए आते हैं। खान से सर अपने बेबाक अंजाद के लिए भी जाने जाते हैं। आज पूरे देश में रक्षाबंधन का पर्व मनाया जा रहा। इस मौके पर खान सर ने अपनी छात्राओं के लिए बेहद ही खास इंतजाम किया। सर को राखी बांधन के लिए छात्राओं की भीड़ लग गई। खान सर ने भी उनके लिए 90 तरह के व्यंजन की व्यवस्था की।

'खान सर के टक्कर में कोई नहीं'

खान सर का नाम सुनते ही छात्रों के मन में उनके पढ़ाने का स्टाइल उभर आता है। इंटरनेट मीडिया पर ऐसे कई वीडियो हैं जिसमें वो छात्रों को मोटिवेट करते दिखते हैं। गुरुवार को रक्षाबंधन के मौके पर छात्राओं ने उन्हें राखी बांधी। खान सर भी कुर्सी पर बैठकर अपनी स्टूडेंट से राखी बंधवाते दिखे। लड़कियों ने कहा कि पहले खान सर को राखी बांधेंगे फिर अपने भाई को। खान सर के टक्कर में कोई नहीं है। लड़कियों ने कहा कि वो भाई की तरह गाइड करते हैं। 

खान सर बोले-मेरी बहन नहीं है

खान सर ने छात्राओं से राखी बंधवाते हुए कहा कि मेरी बहन नहीं है, लेकिन इन बच्चियों ने कभी ये अहसास नहीं होने दिया। उन्होंन कहा कि मुझे रक्षाबंधन का पर्व सबसे अच्छा लगता है। उनहोंने कहा कि कोरोना की वजह से य सब नहीं हो पा रहा था। मेरी हजारों बहनें हैं। खान सर ने कहा कि लोग कहते हैं मैं लड़कियों को बोलते रहता हूं, लेकिन मैं बहनों से लड़ता रहता हूं। बचपन में मुझे कोई राखी बांधने वाला नहीं था। उन्होंने कहा कि मैं सभी बच्चियों से कहना चाहूंगा कि मन लगा कर पढ़िए, मां-पिता का नाम बुलंद कीजिए। उन्होंने कहा कि इन सब को यहां से अधिकारी बनाकर भेजना है। 

90 तरह के खाने का किया इंतजाम

रक्षाबंधन पर राखी बांधने पहुंची छात्राओं के लिए खान सर ने भी जबरदस्त इंतजाम किया। उन्होंने 90 तरह की डिश का इंतजाम किया। लड़कियों ने इन व्यंजनों का भरपूर लुत्फ उठाया।

Edited By: Rahul Kumar