जागरण संवाददाता, पटना। Patna University News: पटना विश्वविद्यालय में होने वाली 143 अतिथि शिक्षकों की नियुक्ति को लेकर परिणाम शनिवार को सिंडिकेट की विशेष बैठक में हरी झंडी मिलने के बाद देर शाम जारी हो गया। पटना विश्वविद्यालय की विशेष सिंडिकेट बैठक कुलपति प्रो. गिरीश कुमार चौधरी की अध्यक्षता में आयोजित हुई। इसमें विभिन्न विषयों के चयन समिति की अनुशंसा के आलोक में अतिथि शिक्षकों की नियुक्ति का अनुमोदन किया गया। 13 विषयों में कुल 143 अतिथि शिक्षकों की नियुक्ति होनी है। सभी चयनित शिक्षकों का विषयवार लिस्ट पटना विश्वविद्यालय की वेबसाइट \क्र222 श्चह्वश्च.ड्डष्.द्बठ्ठ पर देखी जा सकती है।

15 जुलाई तक हर हाल में कर लेना होगा योगदान 

सभी चयनित अतिथि शिक्षकों को एक जुलाई 2022 को अपना योगदान देने के लिए कहा गया है, किसी कारणवश यदि वे योगदान एक जुलाई को नहीं दे पाते हैं तो हर हाल में 15 जुलाई 2022 तक जरूर करना होगा। 15 जुलाई के बाद उनकी दावा खत्म करते हुए प्रतीक्षा सूची के अभ्यर्थी को मौका दिया जाएगा। कुलपति प्रो. गिरीश कुमार चौधरी ने बताया कि सीबीसीएस आरंभ करने के लिए शिक्षकों की कमी थी, इसको देखते हुए अतिथि शिक्षकों की नियुक्ति की गई है। इन 143 नए अतिथि शिक्षकों के साथ साथ 83 पुराने अतिथि शिक्षकों का भी नवीकरण किया गया है।

22 शिक्षकों के नाम की मिल चुकी है अनुशंसा 

पीयू के कुलपति ने यह भी बताया कि बिहार राज्य विश्वविद्यालय सेवा आयोग से भी  22 शिक्षकों के नाम की अनुशंसा पटना विश्वविद्यालय को मिल चुकी है। सीनेट सदस्य डा. कुमार संजीव के आकस्मिक निधन पर उन्होंने शोक व्यक्त किया। इस बैठक में प्रति कुलपति प्रो अजय कुमार सिंह, संकायाध्यक्ष प्रो अनिल कुमार, कुलानुशासक प्रो रजनीश कुमार, कुलसचिव कर्नल कामेश कुमार, अभिषद सदस्य डा. नवीन कुमार आर्य,  प्रो एस बी लाल, पप्पू वर्मा, प्रो मोहम्मद शरीफ, डा. अभय प्रकाश , प्रो  प्रियदर्शिनी भी थे। 

Edited By: Shubh Narayan Pathak