पटना, जेएनएन। जमुई के सोनो में आयोजित कार्यक्रम में शनिवार को केंद्रीय रेलमंत्री पीयूष गोयल ने पटना से बेंगलुरू के बीच एक नई हमसफर एक्सप्रेस ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। रेलमंत्री ने जमुई से रिमोट द्वारा पटना जंक्शन से ट्रेन को रवाना किया। इसके साथ ही उन्होंने झाझा-बटिया नई रेललाइन परियोजना का भी शिलान्यास किया।

इस अवसर पर जमुई के सांसद चिराग पासवान भी मौजूद रहे। परियोजना के पूरा हो जाने से इस क्षेत्र का हावड़ा एवं पटना के साथ सीधा रेल संपर्क हो जाएगा। 

पटना और बेंगलुरु के बीच हमसफर एक्सप्रेस का परिचालन प्रारंभ हो जाने से दोनों शहरों के बीच सीधी  सेवा के रूप में अब 04 जोड़ी एक्सप्रेस ट्रेनें उपलब्ध होंगी। शनिवार को रेलमंत्री गाड़ी संख्या 02353 पटना-बानसवाडि उद्घाटन स्पेशल का शुभारंभ किया।

पटना से यह ट्रेन प्रत्येक गुरुवार को 20.00 बजे चलकर शनिवार को 21.00 बजे बानसवाडि (बेंगलुरु) पहुंचेगी। वहीं गाड़ी संख्या 22354 बानसवाडि (बेंगलुरु) से प्रत्येक रविवार को 13.15 बजे चलकर मंगलवार को 12.45 बजे पटना पहुंचेगी। ट्रेन में एसी3 के 16 एवं एसएलआर के 02 कोच सहित 18 कोच होंगे। 

कहां-कहां रुकेगी ट्रेन 

यह ट्रेन पटना और बानसवाडि (बेंगलुरु) के बीच आरा, बक्सर, पं. दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन, इलाहाबाद छेवकी, सतना, कटनी, जबलपुर, पिपरिया, इटारसी, बेतुल, नागपुर, चंद्रपुर, बल्लारशाह, वारंगल, विजयवाड़ा, गुंटूर, रेणिगुंटा, काटपाडी, जोलारपेट्टी, कृष्णराजपुरम स्टेशनों पर रुकेगी। 

झाझा-बटिया नई रेल लाइन परियोजना 

कुल लंबाई - 20 किलोमीटर 

कुल संभावित लागत - 496.37 करोड़ रुपये 

खंड पर पुलों की संख्या - 24 

सड़क उपरिगामी पुल - 05 

नए स्टेशन - सोनो एवं बटिया 

Posted By: Kajal Kumari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप