पटना, जेएनएन। 19 मई को सातवें चरण यानी अंतिम चरण का चुनाव खत्म हो गया लेकिन प्रत्याशियों की बेचैनी खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। परिणाम को लेकर इन्हें 23 मई का बेसब्री से इंतजार है। कुछ इसी तरह का इंतजार पटना साहिब लोकसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ने वाले रविशंकर प्रसाद व शत्रुघ्न सिन्हा तथा पाटलिपुत्र से रामकृपाल यादव और मीसा भारती को भी है।

पापा के पास गईं मीसा, रविशंकर हैं निश्चिंत

इधर, चुनावी व्यस्तता से समय मिलते ही सोमवार को मीसा अपने पापा राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद से मिलने के लिए रांची रवाना हो गईं। वहीं केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद जीत को लेकर निश्चिंत दिखे। वे कार्यकर्ताओं और अपने समर्थकों के साथ क्षेत्र की जानकारी लेते रहे। नागेश्वर कॉलोनी स्थित आवास पर वे रिकॉर्ड मतों के साथ जीत की बात दोहराई। दोपहर में पत्नी और बहन के साथ भोजन करने के बाद आराम करने चले गए।

कार्यकर्ताओं के साथ चाय पी रहे शत्रुघ्न

कांग्रेस प्रत्याशी व सिने स्टार शत्रुघ्न सिन्हा शहरी क्षेत्र में मतदान प्रतिशत में कमी आने के कारण थोड़ा प्रसन्न नजर आए। उन्हें परिणाम का इंतजार है। सोमवार की शाम में केंद्रीय कार्यालय कंकड़बाग में कार्यकर्ताओं से मिले। साथ में चाय की चुस्की भी ली। पटनासिटी में एक जाति विशेष के अंतिम समय में पाला बदलने की बात उनके खेमे में छायी हुई थी। चुनाव में साथ देने वालों को बिहारी बाबू ने अपने अंदाज में बधाई दी। कांग्रेस कार्यकर्ता आंकड़े के माध्यम से समझाते रहे कि जीत आपकी है। मतगणना की तैयारी पर भी कार्यकर्ताओं के साथ विमर्श किए।

पाटलिपुत्र लोकसभा से भाजपा के प्रत्याशी रामकृपाल यादव की दिनचर्या सोमवार की सुबह गांधी मैदान में टहलने के साथ शुरू हुई। वे क्षेत्र में भ्रमण किए। गोरिया टोली आवास पर रहने के क्रम में कार्यकर्ताओं के साथ मिलते रहे तथा मतदान पर बारीकी के साथ आकलन करते रहे। गोली लगने से घायल अपने समर्थक शंभू शर्मा से मिलने के लिए अस्पताल भी गए। रामकृपाल यादव ने बताया कि कभी भी बैठने वाला नहीं हूं। हमेशा अपने लोगों से मिलते रहता हूं।

एक्जिट पोल के नतीजे में कोई दिलचस्पी नहीं

चुनाव समाप्त होने के बाद दूसरे दिन सोमवार को पटना साहिब से कांग्रेस प्रत्याशी शत्रुघ्न सिन्हा तनावमुक्त दिखे। वह दिन भर अपने समर्थकों और शुभचिंतकों से मिलते रहे। बातचीत के दौरान एक्जिट पोल के नतीजे के प्रति उन्होंने कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई। बल्कि इसे साफ तौर पर खारिज करते रहे। शत्रुघ्न सिन्हा जिस सीट से चुनाव लड़ रहे थे, उसपर मतदान रविवार को संपन्न हुआ। रविवार को भी वह कार्यकर्ताओं से मिले थे और उनसे पटना साहिब स्थित सभी छह विधानसभाओं में मतदान के रुझान की जानकारी ली थी।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Akshay Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप