पटना, जागरण टीम। पटना की चर्चित माडल अनिता देवी उर्फ मोना की इलाज के दौरान अस्‍पताल में मौत हो गई है। उन्‍हें अपराधियों ने राजीवनगर थाना क्षेत्र के अंतर्गत रामनगरी सेक्‍टर-2 में घर के ठीक सामने गोली मार दी थी। यह वारदात दशहरा मेले के दौरान रात के वक्‍त हुई थी। बताया जा रहा था कि मेले से घूमकर लौटने के दौरान मोना को गाेली मारी गई थी। गोली पेट के हिस्‍से में लगी थी, जिससे लिवर और किडनी को नुकसान पहुंचने की बात सामने आई थी। बीते मंगलवार की रात हुई इस घटना में पांच दिन बाद भी पुलिस किसी को गिरफ्तार नहीं कर सकी है। घायल मोना को राजीव नगर के एक निजी अस्‍पताल में भर्ती कराया गया था। हालत बिगड़ने पर माडल को आइजीआइएमएस में शिफ्ट किया गया था। राजीव नगर थाना प्रभारी सरोज कुमार ने बताया कि मोना ने रविवार की तड़के चार बजे दम तोड़ा।

मंदिर में पूजा के बाद लौटी थी घर

बताया जा रहा है कि मंगलवार की शाम मोना अपनी छोटी बेटी के साथ मंदिर में पूजा करने गई थीं। वह नवरात्र का व्रत कर रही थीं। मंदिर से लौटकर उन्‍होंने अपने घर का दरवाजा खोला था और स्‍कूटी को घर के अंदर दाखिल कर रही थीं। इस बीच बाइक पर सवार दो बदमाशों ने उन्‍हें गोली मार दी। दोनों के हेलमेट पहने होने के कारण उनकी पहचान नहीं हो सकी थी।

एक बिल्‍डर को किया गया गिरफ्तार

पुलिस ने माडल के संपर्क में रहे एक बिल्‍डर के ठिकाने पर छापेमारी की थी। हालांकि उसकी संलिप्‍तता का कोई सुराग पुलिस को अब तक नहीं मिला है। बिल्‍डर के ठिकाने पर शराब मिलने के बाद उसे गिरफ्तार किया गया था। माडल की हत्‍या के मामले में पुलिस के हाथ अब तक खाली हैं। राजीव नगर थाना प्रभारी सरोज कुमार ने बताया कि अब इस मामले में हत्या की धारा के तहत जांच की जाएगी। पहले हत्या के प्रयास का मुकदमा दर्ज किया गया था।

निजी कंपनी में काम करते हैं पति

माडल अपने परिवार के साथ राजीव नगर के रामनगरी सेक्टर दो इलाके में रहती थीं। मोना के पति सुमन कुमार प्रिंटर कंपनी में रीफिलिंग एजेंट हैं। उनके दो बच्चे हैं। बड़ा बेटा नैतिक और बेटी आरोही पढ़ाई करते हैं। सुमन मूल रूप से बिक्रमगंज के रहने वाले हैं। महिला पहले टिक-टाक वीडियो बनाती थीं। बाद में उन्होंने माडलिंग करना शुरू कर दिया था और अपना उप नाम मोना राय रख लिया। वह मिस ग्लोबल बिहार प्रतियोगिता में बेस्ट आई का खिताब भी हासिल कर चुकी थीं।