राज्य ब्यूरो, पटना : बीते गुरुवार को जमुई के सांसद चिराग पासवान ने कहा था कि कुछ लोग मेरे केंद्र में मंत्री बनने की अफवाह उड़ा रहा हैं। यह बातें सरासर गलत हैं। चिराग के इस बयान से लगा कि वह राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) का हिस्सा हैं। अब जमुई के सांसद को उन्हीं के चाचा ने एक बयान देकर बड़ा झटका दिया है। राष्ट्रीय लोक जनशक्ति पार्टी के अध्यक्ष और केंद्रीय मंत्री पशुपति कुमार पारस ने कहा है कि चिराग पासवान एनडीए में नहीं हैं, बल्कि वो कन्फ्यूज हैं। अपने अहंकार के चलते सड़क पर हैं।

बिहार के विकास के लिए आए हैं अमित शाह

गृह मंत्री अमित शाह के सीमांचल में आयोजित रैली पर विपक्ष द्वारा सांप्रदायिक तनाव फैलाने के आरोप पर पारस ने कहा कि अमित शाह देश के गृह मंत्री हैं। वो देशभर में जा रहे हैं, तो वहां तो तनाव नहीं फैल रहा है। विपक्ष का हाय-तौबा समझ से परे हैं। अमित शाह सीमांचल के विकास के लिए आए हैं, बिहार के विकास के लिए आए हैं। बिहार के सभी दलों को चाहिए कि केंद्र सरकार के विकास कार्यों में सहयोग करे।

कुछ लोग फैला रहे हैं भ्रम

बता दें कि बिहारशरीफ में लोक जनशक्ति पार्टी (रा) के अध्यक्ष चिराग ने राजगीर के अंतरराष्ट्रीय कन्वेंशन सेंटर में प्रशिक्षण लेने आए राज्यभर के कार्यकर्ताओं से के सामने यह बयान दिया था। उन्होंने कहा था कि कुछ लोग भ्रम फैला रहे हैं कि मैं मंत्री बन रहा हूं, ऐसा कुछ नहीं है। मुझे कोई लालच देकर बरगला नहीं सकता है। चिराग ने कहा कि मेरी रगों में ऐसे नेता का खून है, जो हमेशा दलित व जरूरतमंदों के साथ खड़ा रहे हैं। चिराग ने नीतीश कुमार पर भी हमला किया। कहा कि बिहार में मध्यावधि चुनाव हो सकता है। इसकी तैयारी में अभी से जुट जाएं। लोकसभा चुनाव के दौरान ही बिहार विधानसभा का चुनाव होने की संभावना दिख रही है।  

Edited By: Akshay Pandey