पटना, जागरण संवाददाता। जन अधिकार पार्टी की ओर से बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने, किसानों को एमएसपी की गारंटी, वार्ड सचिव की मांगों का समर्थन को लेकर जन अधिकार पार्टी के युवा प्रदेश अध्यक्ष राजू दानवीर की अध्यक्षता में सोमवार को सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने सचिवालय हाल्ट पर दो ट्रेनों को रोककर जमकर हंगामा किया। बाद में अपने कार्यकर्ताओं का हौसला आफजाई करने के लिए जाप सुप्रीमो राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव अपने पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष राघवेंद्र सिंह कुशवाहा, पूर्व विधायक भाई दिनेश सिंह यादव, प्रेमचंद सिंह के साथ ही दर्जनों समर्थकों के साथ सचिवालय हाल्ट पहुंच गए। मुंबई से भागलपुर जा रही 12336 एलटीटी भागलपुर एक्सप्रेस को 11.44 बजे से लेकर 11.47 बजे तक रोके रखा। 

पप्‍पू यादव समेत 100 पर प्राथमिकी 

जाप के कार्यकर्ताओं ने 11.10 बजे से ही सचिवालय हाल्ट के रेलटरियों पर बैठकर परिचालन को ठप कर दिया था। लगभग 12 बजे रेलवे ट्रैक को पूरी तरह से क्लीयर कर दिया गया। इस दौरान 03612 पटना-भभुआ इंटरसिटी एक्सप्रेस को सुबह 11.14 बजे से 11.19 बजे तथा एलटीटी भागलपुर एक्सप्रेस को रोका गया। आरपीएफ की ओर से प्रदर्शनकारियों को हटाने के दौरान तीखी झड़प भी हुई। रेल परिचालन ठप करने के आरोप में आरपीएफ थाने में पप्पू यादव समेत लगभग 100 पार्टी कार्यकर्ताओं के खिलाफ रेल परिचालन बाधित करने के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कर ली गई हे। जाप के राष्ट्रीय महासचिव सह पूर्व विधायक भाई दिनेश सिंह, प्रदेश अध्यक्ष राघवेंद्र सिंह कुशवाहा, प्रेमचंद्र सिंह, संतोष कुमार एवं राजू दानवीर को आरपीएफ की     ओर से गिरफ्तार कर लिया गया है। पांचों को रेलवे कोर्ट में प्रस्त़त किया गया जहां से उन्हें जमानत पर छोड़ दिया गया है। 11 बजे दिन से 12 बजे तक रेलवे ट्रैक पर पार्टी के कार्यकर्ताओं का हंगामा चलते रहा। 

बिहार बचाने के लिए सौ बार भी जाना पड़े तो जाएंगे जेल

इस संबंध में जाप सुप्रीमो व पूर्व सांसद पप्पू यादव ने कहा कि उनकी पार्टी की ओर से बिहार को विशेष  राज्य का दर्जा  दिए जाने  के लिए काफी दिनों से मांग की जा रही है। परंतु केंद्र सरकार की ओर से ध्यान नहीं दिया जा रहा है। विशेष राज्य के मुद्दे पर आंदोलन करने के लिए पहले ही उनकी पार्टी की ओर से अल्टीमेटम दे दिया गया था। पूर्व घोषित कार्यक्रम के तहत ही आज रेल रोको आंदोलन पूरे बिहार में एक साथ 11 बजे शुरू किया गया। उनके कार्यकर्ताओं को जेल जाने की नहीं बल्कि बिहार को बचाने की चिंता है। बिहार के लिए सौ बार भी जेल जाना होगा तो खुशी-खुशी जाएंगे।  वहीं दूसरी ओर, आरपीएफ के इंस्पेक्टर ने बताया कि जाप के पांच वरिष्ठ नेताओं को गिरफ्तार कर पप्पू यादव समेत 100 के खिलाफ रेलवे एक्ट की धारा 145,146,147 व 174 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

बिना पोस्‍टमार्टम नहींं मानेंगे कोरोना से मौत 

जाप सुप्रीमो ने कहा कि विपक्ष बिहार का सबसे बड़ा दुश्‍मन है। उसे न विशेष राज्‍य चाहिए न जातीय जनगणना। यह लड़ाई जन अधिकार पार्टी की है। कोरोना बकवास बात है। चुनाव और रैली में कोरोना नहीं है। दिन में कोरोना नहीं है। रात में कोरोना आ जाता है। कोरोना से मृतक का जब तक पोस्‍टमार्टम नहीं होता, उसे कोरोना से मौत नहीं मानेंगे। जांच का मानक क्‍यों बढ़ा दिया गया। पहले 28 से 24 अब 34 से 38 कर दिया गया। अब कोरोना होने पर ट्वीट करते हैं। एड्स होने पर क्‍या ये ट्वीट करेंगे। बुखार, खांसी, सर्दी की स्थिति में वे जांच की सलाह नहीं देंगे। जांच के लिए लोग एक लाख बार सोचें।  

 

Edited By: Vyas Chandra