पटना। पटना जिले में प्राथमिक कृषि साख सहयोग समिति (पैक्स) का चुनाव पांच चरणों में होगा। बिहार राज्य निर्वाचन प्राधिकार की अधिसूचना के आधार पर जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह जिलाधिकारी ने शनिवार को चुनाव और परिणाम तिथि की घोषणा कर दी है।

जिलाधिकारी कुमार रवि ने स्वच्छ, निष्पक्ष एवं सहभागितापूर्ण ढंग से मतदान के लिए 12 कोषागों का गठन कर दिया है। उप-विकास आयुक्त सुहर्ष भगत को सभी कोषांगों के वरीय प्रभारी की जिम्मेदारी सौंपी गई है। चुनाव कार्य के लिए कर्मियों की नियुक्ति, उनके पहचानपत्र और जिम्मेदारी के लिए कार्मिक-सह- मतगणना कोषाग गठित किया गया है। इस कोषाग का वरीय नोडल पदाधिकारी एडीएम अरुण कुमार झा को बनाया गया है। इस कोषांग में चार पदाधिकारियों एवं 13 कर्मचारियों की प्रतिनियुक्ति की गई है।

वाहन कोषाग के वरीय नोडल पदाधिकारी एडीएम राजीव कुमार श्रीवास्तव बनाए गए हैं। इसमें चार पदाधिकारियों के अतिरिक्त जिला परिवहन कार्यालय के सभी लिपिक एवं कार्यालय परिचारी की प्रतिनियुक्ति की गई है। चुनाव कार्य के लिए वाहनों का अधिग्रहण, ईधन आपूर्ति और आवंटन की जिम्मेदारी इस कोषांग की होगी।

चुनाव कार्य में लगाए जाने वाले मतदान पदाधिकारी, पीठासीन पदाधिकारी, मतगणना कर्मी सहित अन्य पदाधिकारियों को प्रशिक्षण के लिए अलग कोषाग बनाया गया है। इसके वरीय नोडल पदाधिकारी एडीएम आपदा मृत्यंजय कुमार बनाए गए हैं। सामग्री कोषाग को चुनाव से संबंधित सभी सामग्री का प्रबंध करना होगा। इसके नोडल पदाधिकारी एडीएम आपूर्ति निर्मल कुमार बनाए गए हैं।

: आचार संहिता उल्लंघन पर नजर :

पैक्स चुनाव में आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन रोकने और कार्रवाई के लिए कोषांग गठित किया गया है। इसके नोडल पदाधिकारी एडीएम कन्हैया प्रसाद सिंह बनाए गए हैं। इस कोषाग का कार्य बिहार राज्य निर्वाचन प्राधिकार एवं अन्य विभागों से प्राप्त आदर्श आचार संहिता से संबंधित निर्देशों का अनुपालन अभ्यर्थियों/निर्वाचन अभिकर्ता द्वारा सुनिश्चित कराना होगा। नामांकन से लेकर मतगणना तक आदर्श आचार संहिता के विभिन्न निर्देशों का अनुपालन कराया जाएगा। चुनाव प्रचार के दौरान आदर्श आचार संहिता के निर्देशों का अनुपालन सभी अनुमंडल पदाधिकारियों को कराने का निर्देश दिया गया है।

: चुनाव खर्च का हिसाब :

चुनाव में उम्मीदवारों के खर्च पर निगरानी होगी। इसकी जिम्मेदारी व्यय-लेखा कोषाग की होगी। इसके नोडल पदाधिकारी एडीएम राजीव कुमार श्रीवास्तव बनाए गए हैं। कोषाग का मुख्य कार्य व्यय लेखा पंजी संधारण के लिए विहित प्रपत्रों का संकलन कर लेखा जाच कार्य योजना तैयार करना है। अभ्यर्थियों को व्यय लेखा पंजी के संधारण हेतु आवश्यकतानुसार प्रशिक्षण दिया जाएगा।

: प्रेक्षक की भूमिका :

पैक्स चुनाव कदाचारमुक्त संपन्न कराने के लिए प्रेक्षक प्रतिनियुक्त किए जाएंगे। प्रेक्षक के लिए अलग से कोषांग बनाए गए हैं। इस कोषांग के वरीय नोडल पदाधिकारी एडीएम आपदा मृत्यंजय कुमार बनाए गए हैं। कोषाग की जिम्मेदारी होगी कि प्रेक्षक के साथ एक संपर्क पदाधिकारी को प्रतिनियुक्त करेंगे। संपर्क पदाधिकारी प्रोटोकॉल के अनुसार प्रेक्षक के भ्रमण, आवासन, भोजन और सुरक्षा का पूरा ख्याल रखेंगे। डीएम ने विधि-व्यवस्था और मीडिया कोषांग के साथ हेल्पलाइन-सह-नियंत्रण कक्ष कोषाग गठित किया है। इस कोषाग का मुख्य कार्य इस कोषाग की दूरभाष संख्या का प्रचार-प्रसार और सूचना प्रकाशित कराना होगा। बैलेट पेपर-सह- मत पेटिका कोषाग मतपत्रों की छपाई की जिम्मेदारी संभालेगा। वज्रगृह कोषाग के वरीय नोडल पदाधिकारी एडीएम कपिलेश्वर मंडल बनाए गए हैं। वज्रगृह के निर्माण कार्य का पर्यवेक्षण करना एवं प्राक्कलन के अनुसार समय से वज्रगृह का निर्माण कराएंगे। मतदान के बाद मुहरबंद मतपेटिकाओं के स्टेच्यूटरी/नन स्टेच्यूटरी पैकेट को प्राप्त करने हेतु बैरिकेडिंग एवं अन्य व्यवस्था वज्रगृह के सामने कराएंगे।

- - - - -

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस