पटना [जेएनएन]। केंद्र सरकार और नरेंद्र मोदी पर राजद सुप्रीमो लालू के जमकर हमला बोला और एलान किया कि वो जल्द ही रैली करेंगे। उनके इस बयान के बाद बिहार में विपक्षी पार्टियों ने उनपर जमकर निशाना साधा है। जदयू नेता नीरज कुमार ने पूछा है कि क्या अब लालू जी संपत्ति बचाओ रैली करेंगे?

लालू ने कल कहा था कि नोटबंदी कर नरेंद्र मोदी ने देश में दरिद्रता ला दी है। साथ ही उन्होंने यह भी कहा था कि चायनीज बल्ब के आने के कारण देश में मिट्टी की सुगंध खत्म हो गई है।

लालू के इस बयान पर जेडीयू सांसद आरसीपी सिंह ने तंज कसते हुए कहा कि लालू देश को दरिद्र बता रहे हैं।सभी को पता है किसके चलते देश दरिद्र हुआ और किसके पास नोट और बेनामी संपत्ति है। साथ ही उन्होंने कहा कि लालू रैली की बात करते हैं, कर लें जितनी रैली करनी हो, 2019-20 में इन्हें करारा जवाब मिलेगा।

इसके साथ ही केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने भी लालू यादव पर तंज कसते हुए कहा है कि लालू ने जेल जाने से पहले रैली की थी और अब जेल जाने के बाद रैली करेंगे। 

 

आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद ने कल दिवाली के अवसर पर जहां देशवासियों को शुभकामना ही वहीं उन्होंने केंद्र सरकार पर जोरदार हमला भी बोला था। भाजपा पर निशाना साधते हुए लालू प्रसाद ने कहा था कि राम-राम जपने वाले को राम ही मारेंगे। 

 

इससे पहले राजद सुप्रीमो ने दिल्ली एम्स में इलाज को लेकर उठे विवाद पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री अश्विनी चौबे, सीएम नीतीश कुमार और डिप्टी सीएम सुशील मोदी पर जमकर निशाना साधा था।

 

उन्होंने कहा था कि केंद्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री नेे दिल्ली एम्स के डायरेक्टर को छोटी बीमारियों के इलाज के लिए दिल्ली पहुंचने वाले बिहारियों को वापस भेजने का निर्देश दिया है, जो बिल्कुल गलत है। ये सभी सत्ता के नशे में चूर हैं।

 

वहीं, यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ द्वारा अयोध्या में दिवाली मनाये जाने के सवाल पर लालू प्रसाद ने कहा कि बीजेपी के पास राम और गाय छोड़कर कोई मुद्दा नहीं है। ये लोग समाज को बांटने का काम कर रहे हैं।

 

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस