पटना। राजधानी में लगातार दूसरे दिन सौ से अधिक नए कोरोना संक्रमित मिले हैं। बुधवार को कुल 126 लोगों की रिपोर्ट कोरोना पाजिटिव आई, जिनमें 102 पटना के निवासी हैं, जबकि 18 अन्य जगहों के हैं जिन्होंने यहां जांच कराई थी। छह पूर्व से संक्रमित हैं जिनकी दूसरी जांच भी पाजिटिव आई है। संक्रमितों में एक पीएमसीएच के स्त्री एवं प्रसूति रोग विभाग की डाक्टर भी है। इसके अलावा विभिन्न संस्थानों के 10 चिकित्साकर्मियों की रिपोर्ट भी पाजिटिव आई है। इसके साथ ही जिले में उपचाराधीन मरीजों की कुल संख्या 569 हो गई है। इनमें से 492 पटना के निवासी हैं जबकि 77 अन्य जिलों के हैं। पटना के 488 और अन्य जिलों के 67 मरीज होम आइसोलेशन में हैं जबकि पटना के चार समेत कुल 14 विभिन्न अस्पतालों में भर्ती हैं। सिविल सर्जन ने बताया कि होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों की निगरानी कराई जा रही है। यदि किसी में गंभीर लक्षण सामने आते हैं तो सूचना मिलते ही एंबुलेंस से उन्हें एम्स, पीएमसीएच, एनएमसीएच के कोविड वार्ड में स्थानांतरित किया जाएगा।

स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार, एनएमसीएच में चार, आइजीआइएमएस में एक, एम्स के दो कर्मी व नौ अन्य जांच कराने वाले, पारस के एक, नेताजी सुभाष मेडिकल कालेज के दो, पीएमसीएच में चार लोग संक्रमित मिले हैं। वहीं आइआइटी बिहटा, मुख्यमंत्री सचिवालय और हाईकोर्ट में भी संक्रमित मिले हैं। संक्रमितों की बढ़ती संख्या को देखते हुए कंगन घाट में सौ बेड का डेडिकेटेड कोविड हास्पिटल दोबारा शुरू करने की तैयारी चल रही है।

सिविल सर्जन ने कहा कि कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले को देखते हुए लोग प्रिकाशनरी डोज लेने के साथ बिना मास्क पहनें घर से बाहर नहीं निकलें।

Edited By: Jagran