पटना, जेएनएन। Nagpur school of riots के होनहार आज्ञाकारी शिष्य नीतीश कुमार के रहमो करम से बिहार देश का सबसे बड़ा दंगाई प्रदेश बन गया है। बिहार में एक वर्ष में दंगों के कुल 11,698 मामले दर्ज किए गए। अब कुर्सी कुमार जी प्रवचन देंगे कि मैं communalism से समझौता नहीं करता।

तेजस्वी यादव ने आगे लिखा कि बिहार के कथावाचक मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को हार्दिक बधाई । उनके अथक पलटीमार प्रयासों से देशभर में बिहार को दंगों में प्रथम स्थान मिला है। Murders में द्वितीय, Violent Crime में द्वितीय और दलितों के विरुद्द अपराध में भी बिहार अग्रणी रूप से द्वितीय स्थान पर है। 15 वर्ष से गृहविभाग उन्हीं के ज़िम्मे है इसलिए इसके दोषी वही है।

नीतीश कुमार और सुशील मोदी की महापाखण्डी, महाझूठी, महाभ्रष्ट जोड़ी ने विज्ञापनों के ज़रिए ख़ुद का महिमामंडन करा-करा कर बिहार को अपराध, हत्या, बलात्कार, हिंसा और दंगों के अंधेरे कुएं में धकेल दिया है। जंगलराज अलपाने वाले बेशर्म लोग अपराध पर NCRB के सुशासनी आंकड़े देख अब गूंगे-बहरे व अंधे हो गए है।

‪बेहयाई के साथ स्वार्थवश जंगलराज की बातें कर बिहार को बदनाम करने वाली नीतीश-सुशील मोदी की महाभ्रष्ट विनाशकारी जोड़ी NCRB के आंकड़ो पर मुंह क्यों नहीं खोलती? भ्रष्टाचार, घोटाले, हत्या, अपराध, दंगा, औरतों के खिलाफ़ हिंसा-बलात्कार, दलितों के ख़िलाफ़ अपराध में अप्रत्याशित बढ़ोतरी ही इनके 15 वर्षों की एकमात्र उपलब्धि है।‬

 

Posted By: Kajal Kumari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप