पटना, जेएनएन। पूर्व दिग्गज कांग्रेसी नेता और मंत्री राजो सिंह की हत्या से जुड़े एक ऑडियो के वायरल होने के बाद राजनीतिक हलको में हड़कंप मच गया है। पुलिस अधिकारियों की भी बेचैनी बढ़ गई है। इस वायरल ऑडियो में जो आवाज है वह मोकामा के विधायक अनंत सिंह की कही जा रही है।

इसमें एक सांसद का नाम भी लिया जा रहा है। किस तरह राजो सिंह को धमकी दी गई और फिर उनकी हत्या करवा दी गई, इसका जिक्र उक्त ऑडियो में है। कांग्रेसी दिग्गज राजो सिंह की हत्या 09 सितंबर 2005 को उस वक्त गोली मारकर कर दी गई थी जब वे जिला कांग्रेस कार्यालय में शाम 7:00 बजे मुलाकातियों से मिल रहे थे। मामले पर सफाई देते हुए अनंत सिंह के विधायक प्रतिनिधि बंटू सिंह ने कहा कि यह ऑडियो पूरी तरह से फर्जी है। इसकी उच्च स्तरीय जांच हो।

ऑडियो को काट -काटकर और जोड़कर बनाया गया है। बंटू सिंह ने सत्ताधारी दल के कुछ नेताओं पर अपराधियों को संरक्षण देने का आरोप लगाया। विधायक प्रतिनिधि ने कहा कि वे लोग हत्यारे के साथ घूमते हैं। तस्वीरों में भी उनके साथ दिखते हैं। इस बीच राजो सिंह से जुड़े ऑडियो के वायरल होने के बाद पुलिस ने मामले में स्वत: संज्ञान लेते हुए इसकी फोरेंसिक जांच करवाने की बात कही है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस