पटना, जेएनएन। अभी मुजफ्फरपुर शेल्‍टर होम की पीडि़ता का कार में गैंगरेप का मामला थमा नहीं है। अपराधियों की गिरफ्तारी तक नहीं हुई है। अब नया मामला पटना का सामने आया है। पटना में एयरपोर्ट परिसर में रविवार को ओला कैब में एसी चलाने को लेकर बहस के बाद चालक ने सगी बहनों से छेड़खानी की और उसके साथ मारपीट भी की। जब युवतियों ने पुलिस से शिकायत की बात कही तो वह झल्ला उठा और अपहरण की नीयत से गाड़ी की रफ्तार बढ़ा दी। चालक आलोक ने कार से पार्किंग शुल्क काउंटर का बैरियर तोड़ दिया और गाड़ी लेकर भागने लगा। पुलिस सक्रिय हुई और बूथ संख्या 93 के पास गश्ती दल ने कैब रोकवा ली। सगी बहनों को मुक्त कराने के साथ चालक आलोक कुमार को गिरफ्तार कर लिया गया। 

जानकारी के अनुसार, कदमकुआं थाना क्षेत्र की रहने वाली सगी बहनें विमान से उतरने के बाद एयरपोर्ट से निकलकर पार्किंग एरिया में खड़ी थीं। ओला एप से कैब (बीआर01पीएच- 0264) बुक की। कैब में बैठने के बाद छोटी बहन ने एसी चलाने को कहा तो चालक आलोक ने फब्तियां कस दीं। इसके बाद युवतियों और चालक में बहस होने लगी। चालक कार से उतरकर पीछे की सीट पर चला गया और छोटी बहन से बदसलूकी करने लगा। जब बड़ी बहन ने विरोध किया तो उससे उलझ गया और मारपीट करने लगा।

युवतियों ने शीशा उतारा और मदद के लिए चिल्लाने लगीं। इसके बाद आलोक अपनी सीट पर बैठ गया और तेज रफ्तार में पार्किंग शुल्क काउंटर के बैरियर को तोड़ते हुए भागने लगा। हवाई अड्डा थाने के दारोगा अरुण कुमार ने बताया कि उसे पकड़ लिया गया है। बड़ी बहन की लिखित शिकायत पर प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। आरोपित चालक आलोक अरवल जिले के मेंहदिया के कलेर गांव का रहने वाला है।

Posted By: Rajesh Thakur

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस