पटना। 13 मार्च को पटना सिटी में बाबा ज्वेलर्स के मालिक की गोली मारकर हत्या करने में शामिल आकाश उर्फ पतलू और कुंदन उर्फ ब्लैक सहित नौ अपराधियों को पुलिस ने सोमवार को गिरफ्तार कर लिया। दोनों ने नया गैंग बना लिया था और इनके निशाने पर जहानाबाद के काको निवासी एक बड़े कारोबारी थे, जिनके घर पर एक करोड़ की डकैती की योजना बना रहे थे। लूट के बाद गिरोह दीदारगंज और बिहटा में दो जमीन कारोबारियों की हत्या की सुपारी लेने वाले थे। साथ ही राजधानी में एक दुकान में डकैती की योजना बना चुके थे। इनके पास से चार पिस्टल, दो मैग्जीन, 16 जिंदा कारतूस और एक बाइक बरामद हुई है।

सब कुछ था सेट, बस समय का इंतजार

एसएसपी उपेंद्र कुमार शर्मा ने बताया कि बाबा ज्वेलर्स के मालिक की हत्या में शामिल करीब करीब आठ अपराधियों को पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है। लेकिन, पतलू और कुंदन फरार चल रहे थे। पुलिस इनकी तलाश में जुटी थी। रविवार को सूचना मिली कि पतलू और कुंदन गैंग के कुछ लोग चौक थाना क्षेत्र में देखे गए हैं। एसएसपी ने अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए विशेष टीम का गठन किया।

टीम ने इलाके की घेराबंदी करके पतलू, कुंदन और उनके साथी राजा कुमार, चंदन, अविनाश कुमार, रोहित कुमार, सूरज कुमार, रतन और सत्या उर्फ सोनू को गिरफ्तार कर लिया। सभी मालसलामी के रहने वाले हैं। कुंदन और उसके साथियों ने पुलिस को पूछताछ में बताया कि सभी जहानाबाद के काको में एक बड़े कारोबारी से एक करोड़ रुपए लूटने का दिन तय कर रहे थे। उन्हें जानकारी मिली थी कि उसका कनेक्शन हवाला कारोबारी से भी है और एक करोड़ रुपया आने वाला है। लूट के लिए बाइक, पिस्टल और गोली का इंतजाम भी हो गया था। पटना पुलिस ने जहानाबाद पुलिस को इसकी खबर कर दी है।

दोनों कारोबारियों की हत्या की मिलने वाली थी सुपारी

पतलू गैंग ने पूछताछ में बताया कि दीदारगंज में एक व्यवसायी और बिहटा में एक जमीन कारोबारी की हत्या की सुपारी लेने वाले थे। हत्या के बाद गिरोह पटना में एक दुकान में भी डकैती की योजना बना रहा था।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस