पटना [राज्य ब्यूरो]। बिहार के साढ़े तीन लाख नियोजित शिक्षकों के समान वेतन पर अगली सुनवाई कब होगी इसका फैसला सर्वोच्च न्यायालय में मंगलवार को होगा।

दरअसल समान वेतन पर छह सितंबर को 19वें दिन सुनवाई की समाप्ति पर न्यायमूर्ति अभय मनोहर सप्रे एवं उदय उमेश ललित की खंडपीठ ने मौखिक व लिखित आदेश में सुनवाई की अगली तारीख 11 सितंबर  निर्धारित की थी। लेकिन 8 सितंबर (शनिवार) को जारी केस लिस्ट में 11 सितंबर के लिए इसे सूचीबद्ध नहीं किया गया है। 

आज बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ के अधिवक्ता अभय कुमार एवं विनीत कुमार तथा अन्य शिक्षक संगठनों की ओर से विजय हंसारिया, अनिमेश  कुमार, अजय कुमार सिंह ने संयुक्त रूप से कोर्ट नं. 09 में सुनवाई कर रहे न्यायमूर्ति द्वय अभय मनोहर सप्रे एवं उदय उमेश ललित के सामने यह अपील की कि आप दोनों द्वारा ही 11 सितंबर को सुनवाई की तिथि निर्धारित की गई थी, लेकिन 11 सितंबर की तिथि में यह मामला लिस्टेड नहीं है।

वकीलों ने न्यायधीश द्वय से अपील की कि इस पर गंभीरता पूर्वक विचार करते हुए कोई दूसरी तिथि तय की जाए। शिक्षक संगठनों के अधिवक्ताओं की अपील पर न्यायधीश सप्रे एवं ललित ने आपस में विचार विमर्श कर आश्वासन दिया कि केस के सूचीबद्ध नहीं होने के कारणों की जानकारी रजिस्ट्रार जनरल कार्यालय से लेंगे। साथ ही आश्वासन दिया कि सुनवाई की अगली तिथि निर्धारित करने के लिए कल 11 सितंबर को फैसला करेंगे। 

Posted By: Kajal Kumari