पटना [जेएनएन]। भारतीय रेल स्टेशनों को स्वच्छ बनाए रखने के लिए मोबाइल एप जारी किया है। पूर्व मध्य रेल के 'स्वच्छ रेल' नामक मोबाइल एप को रेलवे बोर्ड के कार्मिक सदस्य डीके गायेन ने राजेंद्र नगर टर्मिनल स्टेशन पर लांच किया। 

गायेन ने कहा कि स्टेशनों की स्वच्छता को रेलवे गंभीरता से ले रही है। यात्रियों को सफाई व्यवस्था से संतुष्ट होना चाहिए। उन्होंने कहा कि राजेंद्रनगर टर्मिनल एवं पटना स्टेशन परिसर की गंदगी का फोटो इस एप पर डालने के बाद त्वरित कार्रवाई की जाएगी। शीघ्र ही इसका विस्तार किया जाएगा। पर्यवेक्षक से लेकर वरिष्ठ उच्चाधिकारियों तक पांच स्तर पर इसकी निरंतर निगरानी की जाएगी।

वर्तमान में यह सुविधा प्रायोगिक तौर पर पटना जंक्शन एवं राजेंद्रनगर टर्मिनल स्टेशन के लिए उपलब्ध रहेगी। बाद में दानापुर मंडल के अन्य महत्वपूर्ण स्टेशनों को भी इससे जोड़े जाने की योजना है। स्वच्छता की दिशा में यह कदम मील का पत्थर साबित होगा। यात्रियों द्वारा गंदगी की तस्वीर डाले जाने के कुछ ही देर बाद उक्त स्थान की सफाई करके मोबाइल एप पर डालना है। अन्यथा सफाई से जुड़े अधिकारियों व एजेंसियों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

ट्रैक से कचरा उठाएगी मशीन

रेल पटरियों पर भी अब कचरा नहीं दिखेगा। राजेंद्र नगर टर्मिनल स्टेशन पर बैक पैक टाइप रैग कीपिंग मशीन से पटरियों की सफाई शुरू हो गई है। यहां का प्रयोग सफल रहा तो दानापुर रेलमंडल के सभी महत्वपूर्ण स्टेशनों पर इसी तर्ज पर सफाई होगी। एक व्यक्ति की पीठ पर मशीन रहती है। वह लेकर चलता है। मशीन कचरा स्वत: उठा लेती है।

सेंट्रल सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल का किया निरीक्षण

रेलवे बोर्ड के कार्मिक सदस्य डीके गायेन ने पूर्व मध्य रेल के सेंट्रल सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल का निरीक्षण किया एवं अस्पताल की कार्यप्रणाली की समीक्षा की। इस अवसर पर अस्पताल के चिकित्सा निदेशक डॉ. संजय कुमार ने पावर प्वाइंट प्रेजेंटेशन से अस्पताल की प्रगति रिपोर्ट प्रस्तुत की। इस दौरान अपर महाप्रबंधक विद्या भूषण, मुख्य चिकित्सा निदेशक डा. आरसी त्रिवेदी, मुख्य कार्मिक अधिकारी शैलेन्द्र कुमार एवं दानापुर मंडल के मंडल रेल प्रबंधक रंजन प्रकाश ठाकुर भी उपस्थित थे।

Posted By: Ravi Ranjan

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस