थरथरी (नालंदा), संवाद सूत्र। थरथरी थाना क्षेत्र के बड़ी छरियारी गांव की एक किशोरी का शव बुधवार को गांव के निकट पईन में उपलाता मिला। वह 15 साल की थी। पड़ोस के गांव लखा चक में उत्क्रमित मध्य विद्यालय में आठवीं की छात्रा थी। वह मंगलवार रात 11 बजे घर से निकली थी। उसके गले पर काला निशान पाया गया है। उसकी हत्‍या की आशंका जताई जा रही है। दुष्‍कर्म के एंगल पर भी पुलिस जांच  कर रही है। 

पड़ोस के युवक से होती थी कौशल्‍या की बातचीत 

किशोरी की मां ने बताया कि उसकी बात-चीत पड़ोस के ही एक युवक से होती थी। उसी युवक के मोबाइल फोन से रात 11 बजे मिस्ड कॉल आया था। उसकी मां ने बताया कि शायद मिस्‍ड काल के बाद वह घर से निकल गई। क्‍योंकि रात दो बजे नींद खुली तो देखा कि बेटी घर में नहीं है। घर का दरवाजा भी खुला था। यह देखकर वे सन्‍न रह गईं। परिवार के लोगों को उठाया। हर तरफ खोजबीन शुरू की गई। चूंकि घर में ही शौचालय है। इसलिए शौच के लिए बाहर निकलने की संभावना तो नहीं थी। थक-हार कर स्‍वजन घर लौटे।

रात दो बजे से ढूंढ़ने लगे स्‍वजन  

उन्‍हें रात से ही अनहोनी की आशंका सता रही थी। बुधवार को पईन में किशोरी का शव मिलने की खबर फैली तो स्‍वजन दौड़े-भागे पहुंचे। वह उनकी बेटी का ही शव था। यह देखकर स्‍वजन दहाड़े मारकर रोने लगे। किशोरी  दो बहनों में छोटी थी। बड़ी बहन की शादी हो चुकी थी। वह मां-पिता एवं दो भाईयों के साथ रहती थी। ग्रामीण भी हत्‍या का कारण नहीं समझ पा रहे हैं। इधर थानाध्यक्ष ने बताया कि शव का पोस्‍टमार्टम कराया जा  रहा है।  हत्‍या कैसे की गई, क्‍या किशोरी के साथ ज्‍यादती की गई इसकी पुष्टि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने पर ही होगी। पुलिस मृतका के मोबाइल का काल डिटेल भी खंगाल रही है।  

Edited By: Vyas Chandra