पटना/छपरा, जागरण टीम। Chhapra Crime: बिहार में चल रहे पंचायत चुनाव के बीच हिंसा का दौर थमने का नाम नहीं ले रहा है। सारण जिले के मांझी थाना क्षेत्र के मड़वन गांव में अपराधियों ने मुखिया पति विजय यादव के पिता मथुरा यादव को गोली मार दी है। दूसरी तरफ, सिवान जिले के महाराजगंज के पटेहा में अपराधियों ने मुखिया  प्रत्‍याशी के बेटे पर हमला कर दिया। सारण जिले में घायल मुखिया के पिता का इलाज एकमा बाजार के एक निजी अस्पताल में कराया जा रहा है। गोली मारकर भाग रहे बदमाशों को मांझी एवं रिविलगंज थाना पुलिस के साथ एसआइटी ने काफी दूर तक खदेड़ा। इस दौरान एक बदमाश को गिरफ्तार किए जाने की जानकारी मिल रही है।

हरना पंचायत के निवर्तमान मुखिया पर जानलेवा हमला

आपको बता दें कि एक दिन पहले ही दरियापुर प्रखंड की हरना पंचायत के निवर्तमान मुखिया सह मुखिया प्रत्याशी गोपाल साह पर कुछ लोगों ने हमला कर दिया था। वे पंचायत के वार्ड-06 के प्रत्याशी अरुण कुमार के घर की ओर से जा रहे थे। कुछ लोगों ने हमला कर दिया। आसपास के लोगों ने उनकी जान बचाई। मुखिया प्रत्याशी गोपाल साह का आरोप लगाया है कि मुखिया की दावेदारी वापस लेने के लिए कुछ लोग दबाव बना रहे रहे थे। हम बात नहीं माने, इसलिए हमला किया गया। उन्होंने पुलिस को आवेदन दिया है।

सारण जिले के मांझी थाना क्षेत्र अंतर्गत मुबारकपुर पंचायत के मुखिया मड़वन गांव निवासी अनीता देवी के ससुर मथुरा यादव को अपराधियों ने सोमवार की रात गोली मारकर गंभीर रूप से घायल कर दिया। आनन-फानन में उन्हें इलाज के लिए एकमा में स्थित निजी अस्पताल पटना नर्सिंग होम में भर्ती कराया गया। उनकी हालत नाजुक देख डॉ एस कुमार ने प्राथमिक उपचार कर पटना पीएमसीएच रेफर कर दिया। सूचना मिलने पर मांझी के विधायक डॉक्टर सत्येंद्र यादव एवं एकमा के विधायक श्रीकांत यादव ने डॉ एस कुमार के क्लीनिक में पहुंचकर घटना की जानकारी ली। दोनों विधायक ने इस घटना की निंदा करते हुए कहा कि जनप्रतिनिधियों पर हमला किया जाना चिंताजनक है।

मिली जानकारी के अनुसार आधा दर्जन की संख्या में बदमाशों ने मड़वन गांव में नवनिर्वाचित मुखिया अनीता देवी के पति विजय यादव को मारने के उद्देश्य से पहुंचे। मुखिया पति के नहीं मिलने पर समीप में ही पोल्ट्री फार्म के पास दालान में सो रहे उनके पिता मथुरा यादव को गोली मारकर भागने लगे। शोर सुनकर कुछ युवकों ने भाग रहे बदमाशों को पकड़ने की कोशिश की, जहां बदमाशों ने एक बार फिर फायरिंग की। इस दौरान एक युवक गंभीर रूप से घायल हो गया। इलाज के लिए उसे रात में ही पीएमसीएच पहुंचाया गया।

इधर रिविलगंज थाना पुलिस को सूचना मिली कि बदमाश भाग कर रिविलगंज थाना क्षेत्र के नवादा एवं मुकरेड़ा गांव के चंवर में पहुंच किसी दूसरी घटना को अंजाम देने की योजना बना रहे हैं। सूचना पर रिविलगंज पुलिस के साथ एसआईटी ने घेराबंदी की, जिसमें पुलिस कर्मियों ने एक बदमाश को दबोच लिया।

Edited By: Shubh Narayan Pathak