पटना । किसानों को अब मात्र 2.25 लाख रुपये में मिनी हार्वेस्टर मिल सकेगा। पटना जिले के 971 किसानों को आवेदन अनुदानित दर पर कृषि यंत्र के लिए बाढ़ में 15 दिसंबर को मेला लगेगा। मेले में अधिकतम चार लाख तक अनुदान का लाभ मिल सकता है।

पटना जिले के 23 प्रखंडों में सर्वाधिक 115 किसानों का आवेदन पालीगंज प्रखंड का मंजूर किया गया है। बिक्रम प्रखंड दूसरे स्थान पर 103 किसानों का आवेदन कृषि यंत्र के लिए मंजूर किया गया है। सबसे कम घोसवरी प्रखंड में मात्र एक किसान का नाम है।

कृषि मेले में करीब 90 प्रकार के कृषि यंत्रों को प्रदर्शित किया जाएगा। सबसे अधिक कृषि यंत्रों में रोटावेटर की मांग है। दूसरे स्थान पर पावर ट्रिलर की की जरूरत के अनुसार आवेदन किया है। कृषि मेला की खासियत होगी कि इस बार हार्वेस्टर के लिए मोटी पूंजी लगाने की जरूरत नहीं है। सामान्य हार्वेस्टर 26 लाख में आता है जिसमें अधिकतम चार लाख रुपये अनुदान का प्रावधान है। इस बार मिनी हार्वेस्टर 4.50 लाख में आएगा। इस उपकरण पर 50 फीसद अनुदान अधिकतम राशि चार लाख से कम होने के कारण किसानों को पूंजी की परेशानी नहीं होगी।

-- कोट --

कृषि मेला के लिए पंचायत स्तर पर प्रचारित किया जा रहा है। उपकरणों के वितरकों के साथ बैठक कर सभी उपकरण मेले में लाने को कहा गया है। मेले में प्रगतिशील किसानों को इस बार सम्मानित करने की योजना है।

सुधीर कुमार,

जिला कृषि पदाधिकारी।

--------------

Edited By: Jagran