पटना [जेएनएन]। मैं बिहार में सौ मिल्खा सिंह पैदा करने का सपना लेकर आया हूं। 50 साल पहले तख्त श्री हरिमंदिर जी के दर्शन के लिए आया था। दूसरी बार बिहार के युवकों को अपनी ताकत याद कराने का सपना लेकर आया हूं। 90 वर्ष का हो गया हूं।

चाहता हूं कि मेरे जिंदा रहते ओलंपिक में एथलेटिक्स में गोल्ड मेडल लेकर कोई भारतीय आए। मिल्खा जो नहीं कर सका, वह बिहारी युवक कर दिखाएं। बिहार आने का निमंत्रण मिलते ही स्वीकार कर लिया। उक्त बातें ओलंपियन धावक फ्लाइंग सिख मिल्खा सिंह ने कहीं।

उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से अपील की है कि बिहार में ओलंपिक गेम्स को बढ़ावा दिया जाए। एथलेटिक्स, फुटबॉल, बॉलीबॉल एकेडमी खुलवाई जाए। बच्चों का चयन कर उनके प्रशिक्षण और पढ़ाई की व्यवस्था कराएं। खिलाड़ी निश्चित रूप से बिहार का नाम अंतरराष्ट्रीय फलक पर ऊंचा करेंगे। 

Posted By: Ravi Ranjan