पटना, राज्य ब्यूरो। बिहार के मुजफ्फरपुर समेत अन्य इलाकों में एईएस के बढ़ते मामलों को देखते हुए राजनीतिक आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला लगातार जारी है। बुधवार को हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतन राम मांझी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमलावर दिखे। 

हम प्रमुख ने कहा कि एक ओर बिहार के अलग-अलग हिस्सों में मासूम बच्चे कई प्रकार की बीमारियों से मौत का शिकार हो रहे हैं और देश के प्रधानमंत्री वन नेशन वन इलेक्शन को लेकर सर्वदलीय बैठक की राजनीति में जुटे हुए हैं। मांझी ने कहा कि यह वक्त ऐसी बैठकों का नहीं। एक समझदार प्रधानमंत्री होने के नाते मोदी को बिहार में हो रही बच्चों की मौत के कारणों का पता लगाने के लिए बैठक करनी चाहिए थी, लेकिन इसके लिए उनके पास समय नहीं। उन्हें सिर्फ अपनी राजनीति से मतलब है। 

नीतीश कुमार पर हमलावर होते हुए मांझी ने कहा कि नीतीश कुमार की सरकार के पास बिहार में बड़े-बडे म्यूजियम बनाने के लिए तो पैसा है, लेकिन बच्चों को मौत से बचाने के लिए उनके पास न तो कोई कार्य योजना है और न ही धन है। उन्होंने कहा बच्चों की जान बीमारी से नहीं बल्कि सरकारी अमले की लापरवाही की वजह से जा रही है और इसके लिए नीतीश कुमार सीधे तौर पर जिम्मेदार हैं। 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Rajesh Thakur