मुजफ्फरपुर [जेएनएन]। लोकसभा चुनाव के दौरान बिहार में पति-पत्नियों का प्रेम खूब दिखा। केवल मुजफ्फरपुर में ही कई उम्‍मीदवारों को उनकी पत्नियों ने चंदा देकर चुनावी मैदान में लड़ाया। वहीं एक महिला उम्मीदवार ने भी पति से आर्थिक मदद ली। जिला निर्वाचन कार्यालय द्वारा निर्वाचन आयोग (Election Commission) को जिले के दो लोकसभा क्षेत्रों के उम्मीदवारों के चुनाव खर्च का जो ब्योरा भेजा है, उसमें इसकी जानकारी दी गई है।

पति-पत्नियों ने चुनाव लड़ने के लिए दिया चंदा

जिला निर्वाचन कार्यालय द्वारा चुनाव आयोग को भेजे गए ब्योरे के अनुसार लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) सांसद वीणा देवी (Veena Devi) ने विधान पार्षद पति दिनेश प्रसाद सिंह से 25 लाख रुपये का चंदा लिया। उन्होंने चुनाव में कुल 65 लाख से अधिक राशि खर्च की।

मुजफ्फरपुर लोकसभा क्षेत्र से बज्ज्किांचल पार्टी के देवेंद्र राकेश, भारतीय मोमिन पार्टी के धर्मेंद्र पासवान व युवा क्रांतिकारी पार्टी के सुधीर कुमार झा ने पत्नियों से चंदा लेकर चुनाव लड़े। धर्मेंद्र ने 38 हजार रुपये ही खर्च किए। इनमें उनकी पत्नी ने ही 30 हजार का योगदान किया था।

अजय निषाद व वीणा देवी ने खर्च की सर्वाधिक राशि

मुजफ्फरपुर के भारतीय जनता पार्टी (BJP) सांसद अजय निषाद (Ajay Nishad) को पार्टी से 40 लाख रुपये चंदा मिला था। उन्होंने जिले में सबसे अधिक 65 लाख 90 हजार रुपये खर्च किए। आयोग द्वारा तय चुनावी खर्च की सीमा 70 लाख रुपये के करीब इन्हीं दोनों ने राशि खर्च की।  उसके अनुसार मुजफ्फरपुर के सांसद अजय निषाद व वैशाली की सांसद वीणा देवी ने सबसे अधिक राशि खर्च की।

प्रतिद्वंद्वियों की खर्च राशि विजेताओं से आधी

वैशाली लोकसभा क्षेत्र में राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) उम्मीदवार डॉ. रघुवंश प्रसाद सिंह (Dr. Raghuvansh Prasad Singh) ने करीब 35 लाख रुपये खर्च किए। यह राशि विजयी उम्मीदवार वीणा देवी से लगभग आधी है। इसी तरह मुजफ्फरपुर लोकसभा में उपविजेता रहे विकासशील इंसान पार्टी (VIP) के डॉ. राजभूषण चौधरी ने 39 लाख रुपये खर्च किए।

Posted By: Amit Alok

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप