पटना, जागरण टीम। LIVE Bihar Coronavirus News: बिहार में कोरोना संक्रमण इस बार अधिक खतरनाक रूप में सामने आया है। केवल 17 दिनों में संक्रमण की दर आठ गुना बढ़ गई है, वहीं रिकवरी रेट हर रोज गिरता जा रहा है। शनिवार की शाम से रविवार की शाम तक रि‍कवरी रेट में 1.26 फीसद तक गिरावट आ चुकी है। इसका सीधा मतलब यह है कि अब कोरोना से मरने वालों की संख्‍या बढ़ रही है और स्‍वस्‍थ होने वालों की संख्‍या लगातार घट रही है। राज्‍य के अस्‍पतालों में बेड, ऑक्‍सीजन और दवाओं की कमी होने लगी है। मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि हर परेशानी का समाधान निकाला जा रहा है। दूसरे प्रांतों में फंसे बिहार के लोग जितनी जल्‍द हो सके अपने घर लौट आएं। सरकार उनकी हर संभव मदद करेगी।

विपक्ष लगा रहा सरकार पर आंकड़े छिपाने का आरोप

बिहार सरकार की ओर से रविवार की शाम जारी आंकड़ों के मुताबिक गत 24 घंटों में 27 मरीजों ने कोरोना संक्रमण की वजह से जान गंवाई है। हालांकि विपक्षी दलों का कहना है कि सरकार मौत के सही आंकड़े को छिपा रही है। आम लोग भी मानते हैं कि संक्रमण की वजह से अपने घर में ही दम तोड़ देने वाले नागरिकों का डाटा सरकार नहीं इकट्ठा कर पा रही है। गत 17 दिनों में कोरोना संक्रमण की दर आठ गुना बढ़ गई है। अब एक-एक दिन में आठ हजार से अधिक नए संक्रमित मिल रहे हैं। कोरोना के कुल सक्रिय मामलों की संख्‍या अब करीब 40 हजार के आसपास पहुंच गई है। बिहार के प्रमुख अस्‍पतालों में बेड और दूसरे संसाधन मरीजों की संख्‍या के सामने कम पड़ रहे हैं।

  HIGHLIGHTS Bihar Coronavirus Update News

प्रदेश में कोरोना के और 7487 संक्रमित मिले हैं। सोमवार को 83361 टेस्ट में ये तमाम संक्रमित मिले हैं। रविवार को 100606 टेस्ट किए गए थे। रविवार के अनुपात में आज कम टेस्ट हुए थे संक्रमित भी कम मिले। सात हजार से ज्यादा नए पॉजिटिव केस मिलने के साथ राज्य में एक्टिव केस 50 हजार के करीब पहुंच गए हैं। पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण की वजह से और 41 लोगों की जान गई है। इसके पहले रविवार काे 27 लोगों की जान गई थी।

पटना से 2672 संक्रमित मिले

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार पटना से सबसे ज्यादा संक्रमित मिल रहे हैं। सोमवार को अकेले पटना जिले से 2672 लोगों के कोविड टेस्ट पॉजिटिव आए हैं। पटना में अब 13 हजार से ज्यादा एक्टिव केस हो चुके हैं।पटना के अलावा आज मुजफ्फरपुर से 389, मुंगेर से 349, भागलपुर से 314, बेगूसराय से 255, पू. चंपारण से 162, समस्तीपुर से 217, सारण से 233, औरंगाबाद से 200, भोजपुर से 110, गया से 261, जहानाबाद से 177, कटिहार से 102, नालंदा से 178, नवादा से 136, पूर्णिया से 149, सहरसा से 159, सिवान से 159 और प. चंपारण से 176 संक्रमित मिले हैं।

 08:20 PM - बिहार में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों और रेमडेसिविर की बढ़ती मांग को देखते हुए सरकार इस समस्या के समाधान में जुटी है। आज ही सरकार ने कैडिला फार्मा से 50 हजार रेमडेसिविर खरीदने का फैसला किया है। सरकार को उम्मीद है कि एक सप्ताह के अंदर बिहार को यह दवा मिल जाएगी।

06:30 PM- गोपालगंज में कोरोना के लगातार बढ़ते मामले को लेकर प्रशासनिक स्तर पर जारी गाइडलाइन का अनुपालन नहीं हो रहा है। जिला मुख्यालय ही नहीं, प्रखंड मुख्यालयों में भी सड़क पर लोगों की भीड़ कम नहीं हो रही है। सोमवार को भी बगैर मास्क के बाजार में लोगों के निकलने का सिलसिला जारी है। इस दौरान प्रशासनिक निर्देशों लोग पालन नहीं करते दिख रहे हैं।

05:51 PM -औरंगाबाद में कोविड-19 के टीकाकरण और जांच को लेकर महत्वपूर्ण फैसला लिया गया है। केयर इंडिया के प्रबंधक मृत्युंजय कुमार ने बताया कि 45 वर्ष से अधिक उम्र वालों का टीकाकरण का कार्य प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र दाउदनगर, अनुमंडल अस्पताल दाउदनगर, अंकोढ़ा सामुदायिक भवन और शमशेर नगर हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर में किया जा रहा है। अब सैंपल अधिक से अधिक लेने पर फोकस किया जा रहा है।

05:10 PM -  इंडियन मेडिकल एसोसिशन (आइएमए) ने बिना लक्षण वाले या होम आइसोलेशन में रह रहे लक्षण वाले कोविड संक्रमित मरीजों केा मुफ्त में टेलीफोन से परामर्श देंगे। इसके लिए आइएमए ने अपने 40 डॉक्टरों की सूची जारी की है। 

04:17 PM - बिहार की राजधानी पटना के साथ पड़ोस के जिले में बढ़ती कोरोना की चेन चिंता का विषय बन गई है। बक्सर में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ती जा रही है। यहां एक हजार एक्टिव मामले हो गए हैं। 24 घंटे में 200 लोग पॉजिटिव मिल चुके हैं। वहीं पांच लोग कोरोना से अपनी जान गंवा चुके हैं। 

03:37 PM - बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि जेडीयू विधायक व पूर्व शिक्षा मंत्री मेवालाल चौधरी का राजगीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया जाएगा। बता दें कि मुंगेर जिले की तारापुर विधानसभा से दूसरी बार विधायक बने मेवालाल चौधरी का आज पटना के एक निजी अस्पताल में निधन हो गया था। 

03:00 PM - पटना के खगौल प्राथमिक स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र में बेहोश होकर गिरी एक एक कोरोना पॉजिटिव महिला को किसी ने नहीं उठाया। महिला पटना के सैदपुरा की निवासी है।

02:45 PM - बड़हड़िया से आरजेडी विधायक बच्चा पांडेय को कोरोनावायरस का संक्रमण हो गया है। उनका इलाज पटना में चल रहा है।

02:30 PM - आज दुकानें कोरोनावायरस संक्रमण रोकने के लिए बनाई गई नई गाइडलइन के तहत खुलीं हैं। वे सायं छह बजे बंद भी हो जाएंगी। रेंस्तरा और ढाबा रात नौ बजे तक वे ऑनलाइन खाना भेज सकते हैं। आज नाइट कर्फ्यू का भी पहला दिन है।

02.00 PM - बिहार में रविवार को एक दिन में 84 हजार 475 लोगों ने कोरोना से बचाव का टीका लिया। 67,467 लोगों को टीके की पहली और 17,008 लोगों को दूसरी डोज दी गई। इसके साथ ही राज्य में टीकाकरण कराने वालों की संख्या बढ़कर 58.95 लाख से ज्यादा हो गई है। राज्य स्वास्थ्य समिति ने बुलेटिन जारी कर बताया कि रविवार को 45-59 उम्र के 36,271 और 60 से अधिक उम्र के 30,038 लोगों को टीके की पहली डोज दी गई।

01.15 PM - बिहार में बढ़ते कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए सरकार ने जांच की रफ्तार बढ़ा दी है। अब हर रोज करीब एक लाख लोगों की जांच की जा रही है। बिहार में अब तक कुल 2 करोड़ 52 लाख 46 हजार 439 लोगों की कोरोना जांच कराई जा चुकी है। रविवार को पूरे बिहार में 8690 संक्रमित मरीज मिले थे।

12.30 PM - स्वास्थ्य विभाग की ओर से रविवार की शाम जारी आंकड़ों के अनुसार, विगत 24 घंटे में संक्रमण के शिकार रहे 3460 लोगों ने इस महामारी को पराजित किया है। इसके साथ ही राज्य में स्वास्थ्य दर 85.67 फीसद हो गई है। दूसरी ओर कोरोना संक्रमण से बड़ी संख्या में लोगों की जान जा रही है। रविवार को संक्रमण की चपेट में रहे 27 लोगों की जान गई । इसके साथ ही राज्य में कोरोना संक्रमण से मरने वालों की संख्या 1749 हो गई है।

11.50 AM - कोरोना का खौफ लोगों में किस कदर है, इसका अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि रविवार को पटना में आयोजित एनडीए की परीक्षा में लगभग आधे अभ्‍यर्थी गायब रहे। हालांकि कुछ लोग स्थिति की गंभीरता को अभी भी अनदेखा कर रहे हैं। इसके चलते संक्रमण तेजी से फैलता जा रहा है। बिहार में आज से नाइट कर्फ्यू की शुरुआत होनी है। नाइट कर्फ्यू रात के नौ बजे से सुबह के पांच बजे तक रहेगा।

11.25 AM - कोरोना के बढ़ते खतरे के बीच एक नकारात्‍मक खबर यह भी है कि स्‍वस्‍थ होने वालों का फीसद लगातार कम हो रहा है। इसका सीधा मतलब है कि अब कोरोना ज्‍यादा लोगों की जान ले रहा है। शनिवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक राज्य में आज 1804 लोग कोरोना को पराजित करने में सफल रहे। विभाग के अनुसार राज्य में स्वास्थ्य दर घटकर 86.93 पर पहुंच गई है जो एक अप्रैल को 98.69 थी।

10.45 AM - झारखंड के बोकारो से तीन टैंकर में करीब 45 हजार लीटर लिक्विड ऑक्‍सीजन रविवार को बिहार लाया गया है। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री मंगल पांडेय ने बताया कि आज शाम तक राजधानी के अस्‍पतालों के लिए छह हजार ऑक्‍सीजन सिलेंडर तैयार करने का लक्ष्‍य रखा गया है। उन्‍होंने कहा कि ऑक्‍सीजन संकट को खत्‍म करने के लिए पटना के सरकारी अस्‍पतालों में उत्‍पादन इकाई लगाने पर विचार हो रहा है।

10.16 AM - औरंगाबाद में पदस्थापित बीपीएससी पदाधिकारी मोहम्मद गुलफाम कोरोना से जंग हार गए हैं। वह बिहारशरीफ के छज्जू मोहल्ला निवासी थे। उनका कोरोना से शनिवार व रविवार की दरमियानी रात निधन हो गया। इधर, पटना में कोरोना के इलाज की महत्‍वपूर्ण दवा रेमडेसिविर की किल्‍लत अब भी बनी हुई है। देश में कुल पांच कंपनियां इस दवा का उत्‍पादन करती हैं। इनमें से दो कंपनियां ही बिहार में इस दवा की आपूर्ति करती हैं। बिहार सरकार के स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के अधिकारी कोशिश में जुटे हैं कि सभी पांचों कंपनियों से दवा की आपूर्ति शुरू कराई जा सके।

10.00 AM - बिहार में कोरोना से मौत का आंकड़ा लगातार बढ़ रहा है। 24 घंटे के अंदर बिहार के अलग-अलग अस्‍पतालों में करीब 30 लोगों की मौत हो चुकी है। पटना के पीएमसीएच, एनएमसीएच, आइजीआइएमएस और पटना एम्‍स में कोरोना वार्ड के बेड पहले से भरे पड़े हैं। एक मरीज की मौत होने पर दूसरे के लिए बेड खाली हो रहा है। इस बीच एक अच्‍छी खबर यह है कि पटना से करीब 30 किलोमीटर दूर बिहटा के ईएसआइसी अस्‍पताल में बेड अभी खाली हैं।

09.20 AM - पटना एम्‍स में इलाज करा रहे पीएमसीएच के एक पूर्व विभागाध्‍यक्ष की कोरोना संक्रमण से मौत हो गई है। इसी के साथ बिहार में कोरोना से मौतों का आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है। अब पटना के अस्‍पतालों में हर घंटे एक मरीज कोरोना संक्रमण के कारण दम तोड़ रहा है।

08.40 AM - बिहार में कोरोना की नई लहर काफी खतरनाक होते जा रही है। इसका अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि सरकार ने पिछले 24 घंटे में 27 लोगों के कोरोना संक्रमण से मरने की बात स्‍वीकार की की है। इनमें से अकेले 22 मौतें पटना जिले में हुई हैं। यह आंकड़ा लगातार ही बढ़ता जा रहा है। बिहार में कोरोना का नया स्‍ट्रेन कई डॉक्‍टर और आइएएस अधिकारी की जान लेने के साथ ही अब एक विधायक और पूर्व मंत्री को भी अपना शिकार बना चुका है।

08.10 AM - बिहार में कोरोना की संक्रमण दर बेकाबू होती जा रही है। अब प्रदेश में पांच से सात हजार संक्रमित प्रतिदिन मिल रहे हैं, जबकि मार्च के प्रारंभ में औसतन सात दिन में 224 संक्रमित मिल रहे थे। उसके अगले सप्ताह में औसतन 267 और 15-21 मार्च के बीच 544 संक्रमित मिले थे। 22-28 मार्च के बीच रफ्तार थोड़ी बढ़ी और एक सप्ताह में 1386 पॉजिटिव मिले। अप्रैल के आते-आते राज्य से एक दिन में 488 संक्रमित मिलने शुरू हुए। 17 अप्रैल यह आंकड़ा बढ़ते-बढ़ते सात हजार संक्रमित तक जा पहुंचा है।

07.35 AM - बिहार सरकार के पंचायती राज मंत्री सम्राट चौधरी ने अपनी ही सरकार की स्‍वास्‍थ्‍य व्‍यवस्‍था पर सवाल उठाया है। उन्‍होंने पूर्व शिक्षा मंत्री मेवा लाल चौधरी के निधन पर दुख जताते हुए कहा कि यह दुखद है कि अब हम अपने सांसद, विधायक तक की जान नहीं बचा पा रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि लोगों को स्थिति की गंभीरता समझने और खुद का बचाव करने की जरूरत है।

07.10 AM - बिहार सरकार के पूर्व मंत्री मेवा लाल चौधरी का कोरोना संक्रमण की वजह से निधन हो गया है। वे पटना के पारस अस्‍पताल में इलाज करा रहे थे। सांस लेने में दिक्‍कत होने के बाद उन्‍हें अस्‍पताल में भर्ती कराया गया था। उनका निधन सोमवार की सुबह हुआ।

06.40 AM - पटना के बेउर में एक शख्‍स की ऑक्‍सीजन के बगैर मौत हो गई। कृष्ण विहार कॉलोनी में 45 वर्षीय दिव्यांग रवि पांडेय नाम के शख्‍स का पूरा परिवार ही कोरोना से संक्रमित है। रवि की मौत के बाद परिवार के सदस्‍यों ने बताया कि उनकी तबीयत बिगड़ने पर राज्‍य सरकार की ओर से जारी सहायता नंबरों पर काफी कोशिश करने के बाद भी कोई मदद नहीं मिली। यह वाकया शनिवार की रात का ही बताया जा रहा है।

06.30 AM - रविवार की शाम चार बजे स्‍वास्‍थ्‍य विभाग की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक 24 घंटे के अंदर एक लाख 604 सैंपल की जांच की गई। विभाग ने बताया कि राज्‍य में अब तक पौने तीन लाख से अधिक लोग कोरोना को हरा चुके हैं। फिलहाल राज्‍य में सक्रिय मरीजों की संख्‍या 44,700 के करीब है। राज्‍य में कोरोना मरीजों के ठीक होने की दर यानी रिकवरी रेट 85.67 फीसद है।

आज से बदल गई कोरोना से बचाव की गाइडलाइन

बिहार में कोरोना से बचाव के लिए गाइडलाइन में बदलाव किया गया है। आज से सख्तियां बढ़ा दी गई हैं। अब राज्‍य में दुकानें शाम सात बजे की बजाय छह बजे ही बंद हो जाएंगी। रात नौ बजे से सुबह पांच बजे तक नाइट कर्फ्यू रहेगा। पार्क, म्‍यूजियम और सिनेमाघरों को 15 मई तक के लिए बंद कर दिया गया है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप