जागरण संवाददाता, पटना। उत्‍तर प्रदेश की पुलिस बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार के सपने में आग लगा रही है। इसका पर्दाफाश पटना जंक्‍शन के पास कोतवाली थाना पुलिस की छापेमारी के बाद हुआ। कोतवाली थाने की पुलिस ने शुक्रवार को पटना जंक्शन के बाहर एक होटल के सामने से तीन शराब तस्करों को गिरफ्तार कर लिया। इनके पास से दो ट्राली बैग में 24 बोतल अंग्रेजी शराब और 48 पीस टेट्रा पैक बरामद किया है। इनकी पहचान अगमकुआं निवासी अमृत सिंह, फुलवारीशरीफ निवासी सौरभ राज व अभिषेक राज के रूप में हुई। तीनों ने पूछताछ में बताया कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन पर मौजूद जीआरपी के कुछ जवान इनकी मदद करते थे।

यह भी पढ़ें : तेज प्रताप यादव ने अपना 'साम्राज्य' बढ़ाने काे तैयार किया रोडमैप, इस तरह खुद को बनाएंगे मजबूत 

दो गुना कीमत पर बेचते थे पटना में शराब 

पकड़े गए तीनों तस्‍करों ने पुलिस को बताया कि यूपी जीआरपी के जवानों की मदद से तीनों शराब की खेप लेकर पटना आते थे और उसे दो गुना दाम में बेच देते थे। कोतवाली इंस्पेक्टर सुनील कुमार ङ्क्षसह ने बताया कि तीनों के पास मिले मोबाइल को जब्त कर लिया गया है। काल डिटेल के साथ ही फोन के जरिए शराब की सप्लाई कहां करते थे इसके बारे में जानकारी जुटाई जा रही है। तस्करी में जो भी शामिल है उनकी गिरफ्तारी की जाएगी। 

यह भी पढ़ें : अब एक हजार से भी कम में बिहार में ही उठाएं गोवा के वाटर स्पोर्ट्स व नौकायन का आनंद

मदद करने वाले जीआरपी जवानों की हो रही पहचान 

गिरफ्तार सौरभ बीकाम फस्र्ट इयर का छात्र है, जबकि अभिषेक 12वीं का छात्र है। तीनों ने बताया कि वह शराब की खेप डिलीवरी ब्वाय तक पहुंचाते थे। पुलिस की पूछताछ में तीनों तस्करों ने जीआरपी जवानों के बारे में बताया पुलिस उनकी पहचान कर रही है। तीनों के पास से जब्त मोबाइल का काल डिटेल भी पुलिस खंगालेगी। साथ ही वह पटना में शराब कहा पहुंचा रहे थे इसके बारे में भी कुछ अहम जानकारी मिली है। पुलिस उनके मोबाइल से वाट्सएप मैसेज को भी खंगाल रही है। कई संदिग्ध नंबर मिले हैं। 

Edited By: Shubh Narayan Pathak