पटना । बिहटा एयरपोर्ट के लिए जमीन अधिग्रहण का कार्य अंतिम चरण में पहुंच गया है। जिला प्रशासन ने रिकॉर्ड समय में यह प्रक्रिया पूरी कर ली है। करीब 80 फीसद जमीन का अधिग्रहण कार्य पूरा हो गया है। 15 दिसंबर को कागजी रूप से जमीन एयरपोर्ट अथॉरिटी को सौंप देने की योजना बनी है।

बिहटा स्थित एयरफोर्स स्टेशन का विस्तार कर अंतरराष्ट्रीय स्तर का एयरपोर्ट बनने जा रहा है। 126.4 एकड़ भूमि अधिग्रहण का कार्य चल रहा है। इसमें 106 एकड़ रैयती, 12.6 एकड़ बकाश्त तथा आठ एकड़ सरकारी जमीन है। रैयत में से 70 एकड़ जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया पूरी कर ली गई है। 62 एकड़ जमीन की राशि का ऑन द लाइन पेमेंट भी कर दिया गया है। अब तक 85 करोड़ रुपये रैयतों को दिए गए हैं। भूमि अधिग्रहण मद में 260 करोड़ रुपये खर्च होने हैं। इसमें से 205 करोड़ रुपये रैयतों को देने हैं। अभी 80 फीसद राशि दी जा रही है। 10 एकड़ भूमि की राशि जमा करने की प्रक्रिया अंतिम चरण में है।

जिला प्रशासन एयरपोर्ट जमीन अधिग्रहण के प्राक्कलन स्वीकृत के लिए राज्य सरकार को भेजने जा रहा है। इसके बाद रैयतों को पूर्ण राशि का भुगतान होगा। एयरपोर्ट निर्माण में 487 प्लॉट का अधिग्रहण हो रहा है। विश्वंभरपुर गांव के किसानों की 99 एकड़ जमीन जमीन है। इस जमीन के 375 प्लॉट हैं। जबकि पुतलुपुर गांव के 112 प्लॉट हैं। कुल 27 एकड़ जमीन है।

रनवे विस्तार के लिए भी एयरपोर्ट अथॉरिटी ने और जमीन की मांग की है। हालंकि अभी जमीन के अन्य प्रस्ताव राज्य सरकार के पास लंबित हैं। गांव पड़ने के कारण इसपर अभी अंतिम निर्णय नहीं लिया गया है।

---------

एयरपोर्ट अथॉरिटी बिहटा में एयरपोर्ट का निर्माण कार्य शुरू करे। 80 फीसद जमीन का अधिग्रहण हो गया। प्रक्रिया अंतिम चरण में है। 15 दिसंबर तक जमीन को हैंडओवर कर दिया जाएगा। अब बस कागजी प्रक्रियाएं पूरी की जानी हैं।

- संजय कुमार अग्रवाल, जिलाधिकारी, पटना

------------

राज्य सरकार को पत्र लिखकर बिहटा की जमीन की चारदिवारी कराने का आग्रह किए हैं। जमीन रिकॉर्ड समय में अधिग्रहित की गई है। जिला प्रशासन ने दिसंबर में जमीन को हैंडओवर करने का आश्वासन दिया है। निर्माण कार्य शुरू करने का कार्य दिल्ली मुख्यालय से हो रहा है।

राजेंद्र सिंह लौहरिया, निदेशक, जय प्रकाश नारायण अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट, पटना

Posted By: Jagran