पटना, राज्य ब्यूरो। Lalu Prasad Kidney Transplant: राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद का किडनी प्रत्यारोपण पांच दिसंबर को हो सकता है। पारिवारिक सूत्रों के मुताबिक प्रत्यारोपण से पहले की जरूरी मेडिकल जांच की प्रक्रिया पूरी हो गई है। डाक्टरों ने लालू की शारीरिक स्थिति को प्रत्यारोपण के लिए उपयुक्त माना है। उनकी पुत्री डा. रोहिणी आचार्य ही डोनर बनेंगी। आपरेशन के दिन उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव भी सिंगापुर में रहेंगे। बारी-बारी से परिवार के अन्य सदस्य भी उन्हें देखने जाएंगे। तेजस्‍वी ने बताया है कि पांच दिसंबर को आपरेशन है। वे तीन दिसंबर को सिंगापुर जाएंगे। 

पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी, पुत्री मीसा भारती और दामाद शैलेश कुमार पहले से वहां मौजूद हैं। बड़े पुत्र एवं राज्य सरकार के मंत्री तेज प्रताप यादव के अलावा लालू की सभी पुत्रियां एवं अन्य रिश्तेदार भी उन्हें देखने सिंगापुर जाएंगे। नेताओं में भोला यादव के भी जाने की संभावना है। रोहिणी परिवार के साथ सिंगापुर में ही रहती हैं।

रोहिणी की किडनी लगेगी

प्रत्यारोपण में सबसे अधिक परेशानी किडनी को लेकर होती है। लालू की यह मुश्किल उनकी बेटी डा. रोहिणी आचार्य ने आसान कर दी। कई अन्य विकल्पों के बावजूद रोहिणी ने अपने पिता के लिए किडनी दान का प्रस्ताव दिया। जांच में भी उनकी किडनी उपयुक्त पाई गई। अबतक यही तय है कि रोहिणी की ही किडनी प्रत्यारोपित होगी। बाहरी व्यक्ति की तुलना में प्रत्यारोपण के लिए रक्त संबंधियों की किडनी को अच्छा माना जाता है। किडनी देने के लिए इंटरनेट मीडिया पर रोहिणी की खूब वाहवाही हो रही है। लोग उनके साहस को अनुकरणीय बता रहे हैं।

फेसबुक पर रोहिणी ने दी जानकारी

रोहिणी आचार्य ने फेसबुक पर पिता को अपनी किडनी देने की जानकारी दी। उन्होंने लिखा-हम पिता के लिए सब कुछ समर्पित करने वाले लोग हैं। लालू जी की शेरनी बेटी हूं। पापा की तरह साहसी फैसला लेती हूं। रोहिणी ने पिता से अपना रक्त समूह मैच करने के बाद भी फेसबुक पर पोस्ट किया था-मेरे लिए यह मांस का एक छोटा टुकड़ा भर है। महान पिता के लिए यह मेरा छोटा योगदान होगा। उन्होंने लिखा कि उनके पिता को किसी मजबूर लाचार मां-बाप की संतान की किडनी नहीं चाहिए।

Edited By: Vyas Chandra

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट