पटना, जेएनएन। भगवानगंज थाने के करवां गांव में गुरुवार की रात मामूली विवाद में दो पट्टेदारों के बीच झड़प के दौरान 42 वर्षीया एक महिला की लोहे की खंती से मारकर हत्या कर दी गई। इस संबंध में मृतका के पुत्र गगन कुमार ने गोतिया फेंकन लाल, उसकी पत्नी शांति देवी, पुत्र सोनू कुमार व श्रवण कुमार के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई है। इधर पुलिस ने चारों आरोपितों को गिरफ्तार कर शुक्रवार को जेल भेज दिया।

मिली जानकारी के मुताबिक करवां गांव के टुनटुन लाल व उसके गोतिया फेंकन लाल का मकान आसपास ही है। फेंकन लाल के सीम की लतर टुनटुन लाल के मकान की दीवार पर चढ़ गई थी। इधर फेंकन लाल का आरोप था कि टुनटुन लाल की पत्नी जानकी देवी सीम (सब्जी) को तोड़ लेती है। इसे लेकर बीते शुक्रवार की शाम दोनों पक्षों के बीच विवाद भी हुआ था लेकिन आस-पड़ोस के लोगों ने मामला शांत करा दिया था।

आरोप है कि रात में इसे लेकर फेंकन लाल जानकी देवी के साथ गाली गलौज करने लगा और विवाद बढ़ गया। इसी दौरान सोनू कुमार ने लोहे की खंती से वार कर जानकी देवी को गंभीर रूप से जख्मी कर दिया। बाद में उपचार के लिए मसौढ़ी ले जाने के दौरान रास्ते में ही उनकी मौत हो गई। थानाध्यक्ष जितेंद राम ने बताया कि शव को पोस्टमॉर्टम के लिए पीएमसीएच भेज दिया गया है। मृतका के पुत्र गगन कुमार ने मामला दर्ज कराया जिसके बाद चारों आरोपितों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया।

पुनपुन में ईंट से कूचकर अधेड़ की हत्या

पुनपुन: बीते गुरुवार की रात एक अधेड़ की बदमाशों ने ईंट से कूचकर बेरहमी से हत्या कर दी और फिर वहां से फरार हो गए। शुक्रवार की सुबह शव को पुलिस ने मध्य विद्यालय मोहनपुर के परिसर से बरामद किया। शव को पोस्टमार्टम के लिए एनएमसीएच भेज दिया गया है। शुक्रवार की सुबह मोहनपुर के समीप विद्यालय परिसर में एक अधेड़ के शव मिलने से सनसनी फैल गई। स्थल पर ग्रामीणों की भीड़ जमा हो गई। मृतक के सिर को ईंट से कूचकर उसकी हत्या की गई थी। उसके शव के पास घटना में प्रयुक्त ईंट भी मौजूद थी, जिसपर खून लगा था। बाद में उसकी पहचान चम्मडीह गांव निवासी राजेंद्र दास (55 वर्ष) के रूप में हुई।

हालांकि मृतक यहां कैसे पहुंचा यह संशय बना रहा। मृतक के स्वजनों ने बताया कि वह मजदूरी करता था। गुरुवार की शाम वह घर से निकला, मगर वापस नहीं लौटा। सूचना पर पुनपुन व गौरीचक पुलिस मौके पर पहुंची। गौरीचक एसएचओ रमण कुमार ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। मगर स्वजनों की ओर से शाम तक कोई लिखित शिकायत दर्ज नहीं कराई गई थी। पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई है।

Posted By: Akshay Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस