पटना [राज्य ब्यूरो]। बिहार कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष कौकब कादरी ने कहा कि उनकी पार्टी ने शुरू से बाबा साहब डॉ. भीम राव आंबेडकर का सम्मान किया है। स्वतंत्रता के बाद जब पंडित जवाहर लाल नेहरू देश के प्रधानमंत्री बने तो उन्होंने डॉ. आंबेडकर को अपने केंद्रीय मंत्रिमंडल में विधि मंत्री बनाया। वह भी तब जब वे कांग्रेस के सदस्य भी नहीं थे। कौकब कादरी शनिवार को प्रदेश कांगे्रस मुख्यालय सदाकत आश्रम में बाबा साहब की 127वीं जयंती समारोह को संबोधित कर रहे थे।

कादरी ने कहा कि आंबेडकर देश के प्रेरणास्रोत रहे हैं। कांग्रेस ने उनकी विचारधारा का सम्मान किया है। जबकि राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत अक्सर संविधान समीक्षा का बात करते हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा एक तरफ महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे की विचारधारा पर चल रही है तो दूसरी तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गांधी की कर्मभूमि मोतिहारी जाकर उन्हें श्रद्धांजलि देने के नाम पर घडिय़ाली आंसू बहाते हैं।

इससे पूर्व सदाकत आश्रम में डॉ. आंबेडकर की तस्वीर पर माल्यार्पण किया गया। बिहार विधानमंडल में कांग्रेस के नेता सदानंद सिंह ने कहा कि भाजपा डॉ. आंबेडकर के विचारों से विपरीत कार्य कर रही है। इस जयंती समारोह को महिला कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष अमिता भूषण, विधायक राजेश राम, राजेश कुमार, विनय शर्मा, भावना झा, हरखू झा, नरेंद्र कुमार, प्रेमचंद्र मिश्र समेत कई वरिष्ठ नेताओं ने भी संबोधित किया।

Posted By: Ravi Ranjan

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस