पटना, राज्य ब्यूरो। प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के अध्यक्ष जीतन राम मांझी ने पटना में प्रेस कांफ्रेंस में पूछे गए एक सवाल पर  कहा कि नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के पास अनुभव की कमी है। बावजूद उन्होंने लोकसभा चुनाव में करीब दो सौ जनसभाएं कीं। हार की वजह से वे अवसाद में आ गए थे। फिलहाल कहीं गए हैं। तेजस्वी विधानसभा का सत्र प्रारंभ होने के पहले पटना लौटेंगे और नई उर्जा के साथ काम करेंगे। 

इसके साथ ही मांझी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन से इस्तीफे की मांग की है। मांझी ने इन्हें एईएस और लू से लोगों की मौत का जिम्मेदार बताया है। मांझी गुरुवार को पार्टी की कोर कमेटी की बैठक के बाद प्रेस से बात कर रहे थे। 

मांझी ने कहा कि कोर कमेटी की बैठक में दूसरे कई मुद्दों के साथ मुजफ्फरपुर में एईएस और गया, नवादा, औरंगाबाद में लू की वजह से हो रही मौत पर चर्चा हुई। बाद में प्रस्ताव पारित कर इसके लिए बिहार और केंद्र सरकार को जिम्मेदार माना गया। उन्होंने कहा कि सरकारी तंत्र की इस निष्क्रियता के खिलाफ हम 26 जून को पटना में महाधरना देंगे और सरकार पर इस्तीफे का दबाव बनाया जाएगा। 

मांझी ने मीडिया को बताया कि कोर कमेटी की बैठक में फैसला हुआ है कि पार्टी नौ अगस्त से सदस्यता अभियान प्रारंभ करेगी। यह तीन महीने तक चलेगा और 20 अक्टूबर को पटना में कार्यकर्ता सम्मेलन आयोजित किया जाएगा। बैठक में मांझी के साथ ही संतोष कुमार सुमन, बीएल वैश्यंत्री, दानिश रिजवान, गीता पासवान और अमरेंद्र त्रिपाठी के साथ ही 15 सदस्यीय कोर कमेटी के दूसरे पदाधिकारी मौजूद रहे। 

 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Kajal Kumari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप