पटना [राज्य ब्यूरो]। बिहार में भाजपा की सहयोगी जनता दल (यूनाइटेड) ने एक बार फिर कहा है कि राज्यसभा में वह तीन तलाक संबंधित बिल का विरोध करेगा। जदयू नेता और बिहार सरकार के उद्योग मंत्री श्याम रजक ने गुरुवार को कहा कि उनकी पार्टी का स्टैंड शुरू से साफ है। उन्होंने कहा हमारी पार्टी धार्मिक मामलों में हस्तक्षेप का विरोध करती है। रजक ने कहा कि मसला चाहे राममंदिर का हो, तीन तलाक का हो या फिर धारा 370 का हो, हम इसका समर्थन नहीं करते हैं। भाजपा के साथ गठबंधन के वक्त ही इन चीजों के बारे में पार्टी ने अपना पक्ष पूरी स्पष्टता के साथ रख दिया था।

जदयू का गठबंधन सिर्फ बिहार में

मंत्री ने कहा कि भाजपा के साथ जदयू का गठबंधन सिर्फ बिहार में है। यहां हम भाजपा के साथ मिलकर एक कॉमन एजेंडे पर काम जो कर रहे हैं, लेकिन विवाद के जो मुद्दे हैं उनमें हमारी नीति और सिद्धांत एक दम पारदर्शी हैं। भाजपा राज्यसभा में तीन तलाक बिल लाने जा रही है। हमारी पार्टी का फैसला है कि हम इसका विरोध करेंगे। श्याम रजक ने कहा कि यह बात हम पहली बार नहीं कह रहे हैं। प्रदेश के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार स्वयं भी कह चुके हैं कि वे तीन तलाक या धारा 370 हटाने का समर्थन नहीं करते हैं। राममंदिर के बारे में भी पार्टी की राय पूरी तरह से स्पष्ट है।

केंद्र में शामिल नहीं है जदयू

बता दें कि बिहार में लोकसभा का चुनाव भाजपा के साथ मिलकर लड़ने वाली जदयू केंद्र सरकार में भी शामिल नहीं हुई है। बिहार की 16 सीटों पर चुनाव जीतने के बाद भी केंद्रीय मंत्रिमंडल में सिर्फ एक सीट मिलने से नाराज जदयू ने केंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल होने से इन्कार कर दिया था।

 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Rajesh Thakur

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप