पटना [जेएनएन]। केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार (PM Modi Government) के गठन में एक सीट के 'प्रतीकात्‍मक प्रतिनिधित्‍व' से इनकार करने वाले जनता दल यूनाइटेड (JDU) के राष्‍ट्रीय महासचिव व प्रवक्‍ता केसी त्यागी (KC Tyagi) ने फिर बड़ा बयान दिया है। रविवार को उन्‍होंने कहा कि केंद्रीय मंत्रिमंडल में जेडीयू के शामिल होने का वक्त खत्म हो चुका है। पार्टी का अंतिम फैसला यह है कि वह भविष्य में भी मोदी सरकार में शामिल नहीं होगी। बिहार में जेडीयू के 16 सांसद हैं।
पहले ही मंत्रिमंडल से अलग रहने का करण बता चुके नीतीश
विदित हो कि गत गुरुवार को केंद्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के नेतृत्‍व में राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) के मंत्रिमंडल का शपथ ग्रहण संपन्‍न हुआ। शपथ ग्रहण के ठीक पहले जेडीयू सुप्रीमो व मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने मोदी सरकार के मंत्रिमंडल से अलग रहने क बड़ा फैसला किया। बाद में मुख्‍यमंत्री ने बताया कि भारतीय जनता पार्टी (BJP) द्वारा मंत्रिमंडल में एक सीट का प्रतीकात्‍मक प्रतिनिधित्‍व देने की पेशकश मंजूद नहीं थी। हालांकि, जेडीयू मंत्रिमंडल से बाहर रहकर एनडीए सकार के साथ मजबूती के साथ रहेगा। इसके बाद रविवार को केसी त्‍यागी ने फिर बड़ा बयान दिया है।
केसी त्‍यागी बोले: आगे भी मोदी सरकार में शामिल नहीं होगी पार्टी
जेडीयू प्रवक्ता और प्रधान महासचिव केसी त्यागी ने कहा कि एनडीए सरकर में एक सीट का प्रस्ताव स्‍वीकार योग्‍य नहीं था, इसलिए पार्टी ने इसे स्‍वीकार नहीं किया। बीजेपी सरकार में जेडीयू से केवल एक मंत्री चाहती थी। इससे साफ था कि वह जेडीयू का सरकर में केवल प्रतीकात्‍मक प्रतिनिधित्‍व चाहती थी। पार्टी नेताओं के साथ 30 मई की बैठक के बाद जेडीयू अध्‍यक्ष व मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार इस बाबत अपनी बात पहले ही रख चुके हैं।

केसी त्‍यागी ने कहा कि बीजेपी को लोकसभा में पूर्ण बहुमत प्राप्‍त है। उसके जेडीयू के समर्थन के लिए परेशान होने का कोई सवाल नहीं है। जहां तक जेडीयू की बात है, पार्टी एनडीए में मजबूती के साथ है। हां, पार्टी भविष्‍य में भी नरेंद्र मोदी सरकार में शामिल नहीं होगी। यह अंतिम फैसला है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Amit Alok

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप