मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

पटना [जेएनएन]। जदयू के प्रदेश अध्‍यक्ष और राज्‍यसभा सांसद वशिष्‍ठ नारायण सिंह ने एनडीए में सीट बंटवारे को लेकर चल रहे विवाद के बीच बड़ा बयान दिया है। कहा कि इतिहास गवाह है कि सीटों का तालमेल दो-चार दिन में नहीं होता।

भाजपा और जदयू के बीच चल रहे विवाद की बात पर उन्‍होंने कहा कि ऐसा कुछ नहीं है। सब अच्‍छे से चल रहा है। एनडीए गठबंधन में आपसी सामंजस्‍य बरकरार है। लोगों ने कुछ बयान का गलत अर्थ निकाला है। जो हो रहा है, उससे यह नहीं कहा जा सकता कि एनडीए में दरार है। पहले भी इस तरह की बातें सामने आयी है। आगे भी आती रहेगी।

बता दें कि सीएम नीतीश के आवास पर हुई जदयू की बैठक के बाद केसी त्‍यागी ने कहा था कि जदयू चाहता है कि अगला लोकसभा चुनाव बिहार में एनडीए नीतीश के नेतृत्व में लड़े। नीतीश के चेहरे का एनडीए अधिक से अधिक लाभ उठाए। दिल्ली में जिस प्रकार भाजपा बड़े भाई की भूमिका में है, बिहार में जदयू बड़ा भाई है। हमें उम्मीद है कि चुनाव से पहले सीटों के तालमेल को लेकर कोई अड़चन नहीं आएगी। तालमेल में जदयू को सम्मानजनक संख्या में सीटें मिलेंगी।

वहीं, इससे पहले एनडीए के घटक दल रालोसपा अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि कि एनडीए में तालमेल की कमी है। सभी दलों को बैठकर आगामी चुनाव के लिए रणनीति बनाने की जरूरत है। चुनाव का समय आने से पहले यह तय हो कि कौन सी पार्टी अगले चुनाव में कितनी सीटों पर लड़ेगी। ऐसी स्थिति में एनडीए की बैठक बुलाना बहुत जरूरी है। आपस में बातचीत होनी चाहिये।

Posted By: Ravi Ranjan

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप