पटना, राज्य ब्यूरो। दिल्ली की तर्ज पर पटना मेट्रो की प्रस्तावित योजना में अब जयप्रकाश नारायण एयरपोर्ट भी जुड़ेगा। मेट्रो का एक ट्रैक हवाई अड्डे तक जाएगा। हवाई जहाज से यात्रा करने वाले एयरपोर्ट से उतर कर निकट के मेट्रो स्टेशन तक मेट्रो में बैठ कर जा सकेंगे। मुख्य सचिव दीपक कुमार और नागरिक उड्डयन (सिविल एविएशन) के चेयरमैन अरविंद सिंह के बीच हुई बैठक में पटना मेट्रो को जयप्रकाश नारायण एयरपोर्ट से जोडऩे पर विचार विमर्श किया गया। शुक्रवार को सिविल एविएशन की टीम पटना में थी। टीम के सदस्यों ने चेयरमैन अरविंद सिंह के नेतृत्व में मुख्य सचिव के साथ पटना, बिहटा, दरभंगा और पूर्णिया हवाई अड्डों को लेकर विचार-विमर्श किया। 

एयरपोर्ट से जुड़े कई पहलुओं पर हुई चर्चा

करीब डेढ़ घंटे की बैठक के बाद मुख्य सचिव दीपक कुमार ने बताया कि आज की बैठक एयरपोर्ट से जुड़े कई पहलुओं पर चर्चा की गई। सिविल एविएशन का प्रस्ताव है कि पटना में अगले तीन से चार वर्ष में मेट्रो का परिचालन शुरू होना है। पटना एयरपोर्ट टर्मिनल को यदि मेट्रो से जोड़ दिया जाए तो प्लेन के साथ ही मेट्रो के यात्रियों को काफी सहूलियत होगी। मुख्य सचिव ने बताया कि प्रस्ताव है कि मेट्रो का एक ट्रैक सीधे जेपीएन इंटरनेशनल एयरपोर्ट तक जाए। प्रस्ताव बढिय़ा है और इसे करने में कोई समस्या भी नहीं। उन्होंने कहा कि सरकार जल्द ही इसका अध्ययन कराएगी और मेट्रो की प्रस्तावित योजना में एयरपोर्ट को शामिल किया जाएगा। 

जनवरी में होगा बिहटा-दरभंगा एयरपोर्ट का टेंडर

बिहटा में प्रस्तावित एयरपोर्ट निर्माण का टेंडर जनवरी में होगा। सिविल एविएशन के चेयरमैन अरविंद सिंह ने मुख्यसचिव के साथ हुई बैठक में यह जानकारी दी। मुख्यसचिव ने बताया कि बिहटा एयरपोर्ट के टेंडर के लिए नागरिक उड्डयन ने तैयारी कर ली है। जनवरी की शुरुआत में यह कार्य हो जाएगा। दरभंगा एयरपोर्ट का टेंडर जनवरी के मध्य में संभावित है। उन्होंने उम्मीद जताई 15 जनवरी के बाद यह कार्य होगा। 

पूर्णिया एयरपोर्ट के लिए निजी विमानन कंपनियों से संपर्क

मुख्य सचिव ने बताया कि पूर्णिया एयरपोर्ट के लिए जमीन अधिग्रहण का काम 31 दिसंबर तक पूरा कर लिया जाएगा। अभी तक इस पूर्णिया एयरपोर्ट से विमान उड़ाने के लिए किसी निजी विमानन कंपनी ने दिलचस्पी नहीं दिखाई है। सिविल एविएशन निजी विमानन कंपनियों से संपर्क कर रहा है। उन्होंने कहा उम्मीद है यह मामला भी जल्द ही निपटा लिया जाएगा। 

पटना में एयरपोर्ट रन-वे के समानांतर बनेगा एक और रन-वे

मुख्य सचिव ने बताया कि नागरिक उड्डयन पटना एयरपोर्ट के रन-वे का विस्तार चाहता है। इसके लिए 20-22 एकड़ जमीन की जरूरत होगी। उन्होंने कहा जरूरत के मुताबिक जमीन दी जाएगी। कुछ जमीन सरकार की होगी और कुछ आइसीएआर की। इस जमीन पर रन-वे के बगल में एक समानांतर रन-वे बनाया जाएगा। ताकि विमान लैंड होने के बाद इस ट्रैक पर भेजे जा सकें और दूसरे विमान के लिए मुख्य रन-वे खाली रहे। 

Posted By: Rajesh Thakur

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस