पटना । बिहार विद्यालय परीक्षा समिति इंटर के सत्र 2019-21 में नामांकन के लिए ऑनलाइन फैसिलिटेशन सिस्टम फॉर स्टूडेंट (ओएफएसएस) के माध्यम से आवेदन 27 अप्रैल से लेगा। छात्र 11 मई तक अपना ऑनलाइन आवेदन भर सकते हैं। दसवीं के अंक में बदलाव की स्थिति में छात्र 28 मई तक इसमें संशोधन कर सकते है। इसके माध्यम से राज्य के 3319 शिक्षण संस्थानों में नामांकन के लिए आवेदन दिया जा सकता है। बोर्ड अध्यक्ष आनंद किशोर ने बताया कि केंद्रीय/राज्य बोर्ड द्वारा आयोजित मैट्रिक अथवा समकक्ष परीक्षा में उत्तीर्ण सभी छात्र इंटर में नामांकन के लिए आवेदन कर सकते हैं।

इंटर में नामांकन के लिए छात्र www.श्रद्घह्यह्यढ्डद्बद्धड्डह्म.द्बठ्ठ पर जाकर कॉमन अप्लीकेशन फॉर्म एवं कॉमन प्रॉस्पेक्टस को डाउनलोड कर पढ़ें। इसमें आवेदन भरने की पूरी जानकारी है। बोर्ड ने स्पष्ट किया है कि सभी इंटरमीडिएट संस्थानों में नामांकन के लिए ओएफएसएस के माध्यम से ही ऑनलाइन आवेदन स्वीकार होंगे। किसी भी स्थिति में ऑफलाइन आवेदन स्वीकार नहीं होगा। सामान्य आवेदन प्रपत्र भरने से संबंधित किसी प्रकार की जानकारी अथवा समस्याओं के निदान के लिये हेल्प सेंटर नम्बर 0612-2230009 पर सम्पर्क किया जा सकता है।

---------- आर्थिक रूप से कमजोर छात्रों को मिलेगा आरक्षण :

बिहार बोर्ड ने इंटरमीडिएट स्कूलों में आर्थिक रूप से कमजोर छात्रों को भी 10 फीसद आरक्षण का प्रावधान किया है। ऐसे अभ्यर्थी जो अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अत्यंत पिछड़ा वर्ग एवं पिछड़े वर्ग के लिए किए गए आरक्षण प्रावधानों के तहत नहीं आते हैं।

------

वर्ष 2018 से लागू है व्यवस्था :

इंटर स्कूल व कॉलेजों में नामांकन के लिए 2018 से ओएफएसएस सॉफ्टवेयर से नामांकन लिया जा रहा है। 2018 में इसके माध्यम से राज्य के विभिन्न शिक्षण संस्थानों में इंटरमीडिएट कक्षा में कुल 11 लाख 23 हजार से भी अधिक विद्यार्थियों ने ऑनलाइन आवेदन किया था।

---------

: एक आवेदन के लिए एक नंबर व ई-मेल :

ओएफएसएस के माध्यम से एक आवेदन के लिए एक मोबाइल नंबर व एक ही ई-मेल आइडी मान्य होगा। एक ही ई-मेल आइडी व मोबाइल नंबर का उपयोग दूसरे छात्र नहीं कर सकेंगे।

-------

: कटऑफ को लेकर देख सकते हैं पिछले वर्ष का ग्राफ :

इंटर स्कूलों में नामांकन के लिए ऑनलाइन आवेदन करते समय छात्र 2018 के कटऑफ को देख सकते हैं। इसके बाद वे अपने पसंदीदा संस्थान का नंबर दें कि किस विद्यालय व कॉलेज में प्राथमिकता के अनुसार नामांकन लेना चाहते हैं।

-------

विकल्प बदलने का नहीं मिलेगा मौका :

छात्र ऑनलाइन आवेदन करते समय विभिन्न संस्थानों का विकल्प सावधानीपूर्वक चुनें। एक बार विकल्प चुनने के बाद नामांकन प्रक्रिया के दौरान बदला नहीं जा सकता है। छात्र कॉलेज के विकल्प के तौर पर कम से कम पांच व अधिकतम 20 संस्थानों को चुन सकते हैं। इसके लिए छात्रों को 300 रुपये का भुगतान करना होगा।

---------

वसुधा केंद्र या जिला निबंधन सह परामर्श केंद्र में भर सकेंगे आवेदन :

इंटर में नामांकन के लिए छात्र वसुधा केंद्र या जिला निबंधन सह परामर्श केंद्र की सहायता ले सकते हैं। बोर्ड ने 3410 सहज वसुधा केंद्र को इसके लिए अधिकृत किया है। आवेदन शुल्क 300 रुपये दिए बिना आवेदन स्वीकृत नहीं माना जाएगा। जिला निबंधन सह परामर्श केंद्र के माध्यम से छात्र ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। केंद्र से फॉर्म भरने के बाद छात्रों को इलाहाबाद बैंक या स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की शाखा में जाकर 300 रुपये ई-चालान से जमा करना होगा। इलाहाबाद बैंक से ई-चालान जमा करने पर 24 रुपये अतिरिक्त चुकाने होंगे। स्टेट बैंक से जमा करने पर 60 रुपये अतिरिक्त जमा करना होगा। ऑनलाइन, डेबिट या क्रेडिट कार्ड से राशि जमा करने पर 300 रुपये जमा कराने होंगे।

------------

छात्रों के विकल्प के आधार पर ही जारी होगी सूची :

आनॅलाइन आवेदन में विद्यार्थियों द्वारा दिये गये विकल्पों के आधार पर ही बिहार बोर्ड नामाकन सूची जारी करेगा। सूची के आधार पर आवेदक आवंटित विद्यालय या महाविद्यालय में जाकर नामाकन ले सकेंगे।

-------------

: एप से मिलेगी सहायता :

ऑनलाइन नामाकन के लिये बिहार विद्यालय परीक्षा समिति, पटना द्वारा एक मोबाइल एप द्वारा तैयार किया गया है। यह छात्रों को काफी सहायक होगा। इसे छात्र मोबाइल फोन के प्ले स्टोर से डाउनलोड कर सकते हैं। यह गूगल प्ले स्टोर पर ओएफएसएस के नाम से उपलब्ध है। इसमें आवेदन से संबंधित सभी जानकारी उपलब्ध है।

-----------

: आरक्षण एवं कोटा :

कैटेगरी - आरक्षण

अनुसूचित जाति - 16

अनुसूचित जनजाति - 01

अत्यंत पिछड़ा वर्ग - 18

पिछड़ा वर्ग - 12

पिछड़ा वर्ग की महिला - 03

दिव्यांग - 05

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस