पटना, बिहार ऑनलाइन डेस्कIndian Railway IRCTC New train: भारतीय रेलवे कोरोना काल में बंद पड़ी करीब 70 फीसद ट्रेनों का परिचालन एक-एक कर शुरू कर चुका है। अप्रैल महीने में रेलवे की ज्यादातर ट्रेनें अपने पूर्व निर्धारित टाइम टेबल के अनुसार चलने की संभावना है। इसी कड़ी में पूर्व मध्य रेलवे ने वाराणसी और पटना जंक्शन के बीच चलने वाली जनशताब्दी एक्सप्रेस का परिचालन शुरू कर दिया है। यह ट्रेन वाराणसी के पास मंडुआडीह से खुलकर पटना जंक्शन तक जाती है। रास्ते में इसका ठहराव केवल वाराणसी जंक्शन, पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन, दिलदारनगर जंक्शन, बक्सर स्टेशन और आरा जंक्शन पर ही है। यह ट्रेन करीब 1 साल के बाद पटरी पर लौटी है।

बिहार और यूपी के रेल यात्रियों को लाभ

इसका परिचालन शुरू होने से बिहार और यूपी के बीच रेल यातायात सुगम होगा। इस ट्रेन का लाभ वाराणसी के साथ ही उत्तर प्रदेश के गाजीपुर, बिहार के बक्सर, आरा, पटना और अन्य कई जिलों के यात्रियों को होगा।

स्थानीय यात्रियों को होगा काफी फायदा

कोरोना काल में रेलवे ने एक बड़ा बदलाव किया है कि द्वितीय श्रेणी साधारण कोच की सीटें भी आरक्षित कर दी हैं। इससे कम समय में यात्रा का कार्यक्रम तय करने वाले स्थानीय यात्रियों को टिकट मिलने में मुश्किल हो रही है। पटना-वाराणसी जनशताब्दी के शुरू हो जाने से यह मुश्किल काफी हद तक दूर हो जाएगी। इस ट्रेन में टिकट यात्रा के चंद घंटे पहले तक उपलब्ध रहती है। 

पूर्व निर्धारित समय के अनुसार होगा परिचालन

इससे पहले पूर्व मध्य रेलवे पटना जंक्शन से खुलने वाली दो अन्य जनशताब्दी एक्सप्रेस का परिचालन शुरू कर चुका है। पटना - गया -रांची जनशताब्दी और पटना -हावड़ा जनशताब्दी एक्सप्रेस पहले से ही चल रही हैं। अब पटना से तीसरी जनशताब्दी भी 31 मार्च से चलने लगेगी। 31 मार्च को यह ट्रेन मंडुवाडीह से खुलकर पटना जंक्शन अपने पूर्व निर्धारित समय के अनुसार पहुंचेगी। पटना जंक्शन से यह ट्रेन शाम को वाराणसी वापस होगी। इस ट्रेन में सभी सीटें आरक्षित श्रेणी की होती हैं। इसमें साधारण श्रेणी के अलावा एसी चेयर कार की सीटें भी उपलब्ध हैं। स्टेशनों पर ठहराव होने के चलते यह ट्रेन कम समय में गंतव्य तक पहुंच आती है। आईआरसीटीसी ने इस ट्रेन के लिए टिकटों की बुकिंग शुरू कर दी है।