पटना, जेएनएन। सरकार ने मैग्नीशियम काबरेनेट पाए जाने के बाद तीन अन्य पान मसालों को बिहार में पूरी तरह से प्रतिबंधित कर दिया है। ये पान मसाले हैं शिखर पान मसाला, विमल और सर गोल्ड। स्वास्थ्य विभाग ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिया है। इससे पूर्व 30 अगस्त को एक दर्जन पान मसालों को बिहार में प्रतिबंधित किया गया था।

खाद्य सुरक्षा आयुक्त संजय कुमार ने विभिन्न जिलों से नमूना संग्रह कर पान मसालों की जांच कराई थी। जांच में पाया गया कि इन मसालों में कई बीमारियों की वजह बनने वाला केमिकल मैग्नीशियम काबरेनेट है। जिसके बाद इन तीनों पान मसालों के उपयोग, बिक्री, परिवहन और भंडारण पर रोक लगाई गई है।

दर्जन भर पान मसालों में मैग्नीशियम काबरेनेट मिलने के बाद भले ही इन्हें प्रतिबंधित कर दिया गया हो, लेकिन अब भी प्रतिबंधित पान मसाले धड़ल्ले से बिक रहे हैं। अब सरकार ने प्रतिबंधित पान मसाले बेचने वालों पर और सख्ती करने का फैसला किया है।

पान मसालों पर प्रतिबंध के बाद अलग-अलग जिलों में छापेमारी अभियान चलाया गया और बड़ी मात्र में प्रतिबंधित पान मसाले जब्त किए गए। अब इस काम को और गति देने के इरादे से स्वास्थ्य विभाग ने जिलावार छापामार दस्ते गठित करने का फैसला लिया गया है। विभागीय सूत्रों के अनुसार जल्द ही छापामार दस्ता अलग-अलग जिलों में विभिन्न बाजार, रेलवे स्टेशनों, बस अड्डों के साथ ही होटलों के बाहर चलने वाली परचून की दुकानों का निरीक्षण करेगा।

यदि निरीक्षण के क्रम में दुकानों में प्रतिबंधित पान मसाले पाए जाते हैं तो पान मसाले तो जब्त किए ही जाएंगे संबंधित विक्रेता पर आर्थिक जुर्माना लगाया जाएगा। इसके साथ ही विभाग ने जिलाधिकारियों से पान मसालों को प्रतिबंधित करने को लेकर सहयोग लेने का फैसला भी किया है।

आशियाना से कंकड़बाग तक चलाया गया अभियान

राज्य में पान मसाला पर प्रतिबंध लगने के बाद सोमवार को औषधि विभाग की ओर से दीघा-आशियाना रोड से लेकर कंकड़बाग तक छापेमारी अभियान चलाया गया। इसदौरान 15 हजार रुपये का पान-मसाला जब्त किया गया। यह अभियान लगातार चलता रहेगा। औषधि विभाग द्वारा पान मसाले के खिलाफ अभियान शुरू करने से दुकानदारों में हड़कंप मच गया।

कई अपनी दुकानें छोड़कर भाग गए। हालांकि औषधि विभाग के अधिकारियों ने न तो किसी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया न ही किसी को गिरफ्तार किया गया। औषधि विभाग के अधिकारी केवल पान-मसाला को जब्त करने पर जोर दे रहे थे। पटना जिले के औषधि निरीक्षक अजय कुमार ने कहा कि सुबह दस बजे दीघा-आशियाना रोड से जब्ती का अभियान शुरू किया गया। उसके बाद बेली रोड में आशियाना मोड़ से लेकर सचिवालय तक पान मसाला जब्त किया गया। इसके अलावा कंकड़बाग एवं पटना सिटी में भी अभियान चलाया गया।

Posted By: Akshay Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप