बाढ़। बाढ़ में प्रशासन की सख्ती के बावजूद भी लोगों में कोविड-19 से बचाव के प्रति विशेष जागरूकता नहीं देखी जा रही है। बेपरवाह और आम दिन के जैसा बाजार में घूमने के साथ स्टेशन परिसर पर भी बिना मास्क के घूमते नजर आ रहे हैं। प्लेटफार्म पर एक स्थान से दूसरे स्थान जाने के लिए लोगों की भारी भीड़ देखी जा रही है, लेकिन लोग ना तो शारीरिक दूरी का पालन कर रहे हैं और ना ही चेहरा ढंक रहे हैं। जिसके चलते बाढ़ में कोविड-19 के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। यही हाल ट्रेन के भीतर भी देखने को मिला। बृहस्पतिवार के दिन जब प्लेटफार्म और रेलवे के डिब्बे का जायजा लिया गया। तो लोग बेपरवाह दिखे। यहा तक कि कुछ रेल पुलिस के जवान भी बिना मास्क के ही नजर आए।

रेल थानाध्यक्ष तारकेश्वर मिश्र से जब बात की गई तो उन्होंने कहा कि मास्क चेकिंग चलाया जाता है। पर सोचने वाली बात यह है कि इस तरह की लापरवाही से लोग खुद तो बीमार पड़ेंगे ही, दूसरे की भी जान लेने का काम करेंगे। जरूरत है जागरूकता की और प्रशासन के द्वारा कढ़ाई किए जाने की। बाढ़ रेलवे स्टेशन पर खड़ी है कि लोकल ट्रेन पर कई व्यक्ति बिना मास्क के ही सफर कर रहे थे। जब उनसे पूछा गया कि आपने मास्क क्यों नहीं लगाया। तो उनका जवाब अजीबोगरीब था। किसी ने कहा कि मास्क लगाना भूल गए। तो किसी ने कहा कि मास्क लाना ही भूल गए। कई यात्री मास्क लगाए हुए थे, परंतु वह मास्क को नाक से नीचे किए हुए थे। वही कई यात्री मास्क लगाकर ट्रेन में यात्रा कर रहे थे। आपको बता दें कि बाढ़ अनुमंडल में कोरोना संक्रमितों की संख्या का आकड़ा 500 से पार कर गया है। प्रतिदिन 100 से अधिक मरीज कोरोना संक्रमित मिल रहे हैं।

बाढ़ थाने में कोरोना संक्रमण की दस्तक के साथ पुलिस हुई सचेत

बाढ़। बाढ़ थाने में कई अधिकारियों की कोविड-19 पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद थाने परिसर को रस्सी से घेर दिया गया है। साथ ही थानाध्यक्ष संजीत कुमार के द्वारा पूरी तरह से साफ-सफाई और सैनिटाइजेशन कराए जाने पर जोर दिया जा रहा है। इस दौरान अधिकारियों के लिए भी सैनिटाइजर के कई स्टैंड लगाए जा चुके हैं। साथ ही थाने में आने वाले लोगों के लिए एक लेटर बॉक्स बना दिया गया है। जिसमें वह अपना शिकायत पत्र डालेंगे। पुलिस पूरी तरह से फूंक-फूंक कर कदम रख रही है।, ताकि कोविड-19 का कहर बेकाबू ना हो। साथ ही हर दिन सैनिटाइज कराए जाने पर भी जोर दिया जा रहा है। थानाध्यक्ष संजीत कुमार ने बताया कि थाना के कई कर्मी और अधिकारी फिलवक्त इलाज करवा रहे हैं।

Edited By: Jagran