पटना, जेएनएन। शौहर को चाहिए थी गोरी बीवी, लेकिन जिस लड़की से निकाह हुआ उसका रंग गोरा नहीं था, जिसकी वजह से शादी के महज 26 दिनों के बाद ही उसने अपनी बीवी को तलाक देने की बात कही। बीवी  यह सुनकर एकदम अचंभित रह गई और रोती हुई महिला आयोग के दफ्तर पहुंची। राज्य महिला आयोग अध्यक्ष के सामने उसने कहा कि महज उसके गोरे न होने की वजह से उसका शौहर उसे तलाक देना चाहता है। 

पीड़िता बक्सर के काजीपुर पंचायत की रहने वाली है। उसने महिला आयोग में आवेदन देते हुए कहा कि शौहर  मोहम्मद सनौवर अंसारी के साथ 25 नवंबर, 2017 को उसका निकाह हुआ था। निकाह के बाद सबकुछ अच्छा चल रहा था। फिर 26 दिनों तक शौहर के साथ रहने के बाद वह कुछ दिनों के लिए अपने मायके आरा आ गयी।

मायके से ससुराल वापस जाने के लिए जब उसने अपने शौहर को फोन किया तो उसने उसे ले जाने से इन्कार कर दिया और कहा कि तुम्हारा रंग काला है, जिसकी वजह से अब तुम मेरे साथ नहीं रह सकती। यह सुनकर उसके पैरों तले की जमीन खिसक गई कि उसका रंग गोरा नहीं है। इस कारण उसका शौहर अपनाने से मना कर रहा है।

बीवी के आरोप के बाद आयोग में जब दोनों पक्षों को बुलाया तो पीड़िता के शौहर ने कहा कि उसे धोखे में रखकर निकाह कराया गया था। निकाह के पहले कहा गया था कि लड़की गोरी है। गोरी लड़की बताकर उसका निकाह करा दिया गया, लेकिन निकाह के बाद जब उसने देखा तो बीवी काली थी। शौहर का कहना था कि अब मैं इसके साथ नहीं रहना चाहता हूं।

वहीं महिला ने आयोग की अध्यक्ष के सामने कहा कि कुछ भी हो जाए, उसे अपने शौहर के साथ ही रहना है। दोनों पक्ष की दलील सुनने के बाद आयोग की ओर से इस रिश्ते को एक और मौका देने की बात कही गई है और दोनों पक्ष को अगले महीने की 30 तारीख को आने को कहा गया है।

Posted By: Kajal Kumari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप