पटना [जेएनएन]। दोनों ने साथ जीने-मरने की कसमें खाईं थीं। उन्‍होंने इसे चरितार्थ भी कर दिखाया। पति के करंट की चपेट में आने के बाद उसे बचाने के क्रम में पत्‍नी की भी मौत हो गई। घटना पटना के पटेल नगर में मंगलवार को हुई।

पटना के राजवंशी नगर हनुमान मंदिर के पुजारी सुरेंद्र झा (55) और उनकी पत्नी सावित्री देवी (52) की मंगलवार की सुबह करंट लगने से मौत हो गई। पति-पत्नी पटेल नगर स्थित घर से थोड़ी ही दूर पर सड़क पर गिरे सर्विस वायर की चपेट में आ गए। घटना स्थल पर ही पावर ग्रिड कारपोरेशन ऑफ इंडिया का मुख्य गेट है। हादसे के बाद इलाके में अफरा-तफरी मच गई। बिजली काटकर सर्विस वायर को दुरुस्त किया गया। आइजीआइएमएस में पोस्टमार्टम के बाद पति-पत्नी का बांसघाट पर दाह-संस्कार किया गया।

परिजनों ने बताया कि पीटीसी कॉलोनी में रहने वाले पुजारी सुरेंद्र झा सुबह करीब सवा चार बजे साइकिल से मंदिर का गेट खोलने जा रहे थे। पत्नी सावित्री देवी घर के दरवाजे तक छोडऩे आईं। घर से कुछ दूरी पर जलजमाव था, जहां पोल से घर तक जाने वाला बिजली का तार टूटकर गिरा था। करंट लगते ही पुजारी साइकिल से पानी में गिरकर छटपटाने लगे। पत्नी बिना सोचे-समझे पति को बचाने दौड़ी और वह भी करंट की चपेट में आ गई। थोड़ी ही देर में पति-पत्नी दोनों की मौत हो गई।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस