कैमूर [जेएनएन]। भूत भले ही मन का वहम हो, लेकिन इसके चक्‍कर में अनर्थ तो होते ही रहे हैं। ऐसा ही एक मामला बिहार के एक थाने में तब देखने को तब मिला, जब वहां भूत को लेकर जबरदस्‍त हंगामा हुआ। बात इतनी बढ़ी कि आरक्षी अधीक्षक (एसपी) को आकर स्थिति पर पर नियंत्रण करना पड़ा। यह अजीबोगरीब घटना बिहार के कैमूर (Kaimur) जिले के मोहनियां थाने की है।

तांत्रिक ने भाई को बहकाया

मिली जानकारी के अनुसार मोहनिया थाना क्षेत्र स्थित एक गांव में दो चचेरे भाई रहते हैं। एक भाई की बेटी की कुछ दिनों पहले बीमारी के कारण मृत्‍यु हो गई। इसके बाद दूसरे भाई की बेटी बीमार रहने लगी। बीमार बेटी को लेकर जब दूसरा भाई एक तांत्रिक के पास गया तब उसने बताया कि भाई ने उसकी बेटी पर भूत बैठा दिया है।

इसके बाद दाेनो भाइयों में विवाद हो गया। बीमार बेटी को डॉक्‍टर से दिखाने के बदले उसके पिता अपने भाई पर भूत हटाने का दबाव बनाने लगा।

भूत के खिलाफ एफआइआर की कोशिश

विवाद इतना बड़ा कि उसने थाना पहुंचकर चचेरे भाई व भूत के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराने की कोशिश की। उसने आरोप लगाया कि चचेरे भाई ने भूत भेजकर उसकी बेटी को बीमार कर दिया है। उसने आरोप लगाया कि वह अपने भाई से भूत हटाने के लिए कह रहा है, लेकिन वह नहीं मान रहा।

अंत में तांत्रिक पर दर्ज हुआ मुकदमा

थाना प्रभारी ने समझाने की कोशिश की। दोनों भाइयों को बुलाकर मामला सुलझाने की भी कोशिश की। लेकिन विवाद बढ़ गया। थाना प्रभारी ने मुखिया और सरपंच को बुलाकर भी दोनों भाइयों काे समझाया। यह अजीबोगरीब मामला एसपी तक भी पहुंचा। उन्‍होंन भी थाना पहुंचकर दोनों को समझाया। अंतत: अंधविश्‍वास फैलाने वाले तांत्रिक के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराने पर सहमति बनी।

पहले भी भूत से परेशान रही पुलिस

विदित हो कि बिहार में थाने पहुंचा भूत का यह पहला मामला नहीं है। कटिहार के आजमनगर थाना में जमीन विवाद को लेकर सात वर्ष पहले मर चुके मो. यासीन पर जबरन जमीन पर कब्जा कर लेने की एफआइआर 16 मार्च 2019 को मामला दर्ज करायी गयी थी। कांड के अनुसंधानकर्ता ने घटना को सही बताया। मामला सामने आने के बाद पुलिस की कार्यशैली पर सवाल खड़ा हो गया। हालांकि, इस मामले में भी पुलिस भूत के फेरे में परेशान रही।

Posted By: Amit Alok

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस