पटना [अमित आलोक]। नए साल के स्वागत में होने वाले जश्न में भाेजपुरी अभिनेत्रियों की डिमांड रहती थी। लेकिन, इस साल अधिकांश अभिनेत्रियां खाली रहीं। एक अभिनेत्री ने इस कारण हुए घाटे की वजह नोटबंदी व शराबबंदी को बताया।
इस साल अधिकांश भोजपुरी अभिनेत्रियां खाली हाथ रहीं। पटना में उनके शो नहीं हुए। नववर्ष के स्वागत में होने वाले शो भी कम हुए। आयोजकों ने कम पैसे में काम निकाला। नोटबंदी की वजह से ऐसे आयोजनों में पैसा लगाने का रिस्क लेने लोग सामने नहीं आए। इसकी एक वजह शराबबंदी भी रही। आयोजकों को शराबबंदी के कारण नए साल के जश्न की सफलता में संदेह था।
बॉलीवुड के 'बैडमैन' ने की दिल की बात, अब भोजपुरी फिल्में करना चाहते गुलशन ग्रोवर

काम नहीं मिलने के कारण भोजपुरी अभिनेत्रियों को घर-परिवार व दोस्तों के साथ नया साल मनाने का मौका मिला। भोजपुरी की हॉट सनसनी अनारा गुप्ता का भी कहीं कोई शो नहीं था। इस नए साल वे भी परिवार के साथ रहीं। अभिनेत्री सन्नी सिंह भी परिवार के साथ आजमगढ़ में तो नेहा श्री परिवार के साथ जयपुर में रहीं। भोजपुरी अभिनेत्री आम्रपाली दूबे ने भी नया साल परिवार के साथ मनाया

मराठी से भोजपुरी इंडस्ट्री में आईं तेजल चौधरी भी खाली रहीं। वे परिवार के साथ मुंबई में हैं तो सीमा सिंह अजमेर शरीफ गई हैं।

भोजपुरी में 39 साल पहले सुपरहिट हुई थी फिल्म 'दंगल', हिंदी में कॉपी किया नाम

काजल रघवानी व गुंजन पंत भी भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री में फेमस नाम हैं। नए साल में इन दोनों को भी काम नहीं मिला। पूनम दूबे व शुभी शर्मा ने भी नए साल में शो नहीं किए। दोनों फिलहाल फिल्म की शूटिंग में व्यस्त बताई जा रही हैं।

Posted By: Amit Alok