पटना, जेएनएन। Chandrayaan-2: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ बैठकर चंद्रयान-2 की लाइव लैंडिंग देखने के लिए देशभर के चुनिंदा बच्चों में शामिल बिहार के पटना स्थित कंकड़बाग के अशोक नगर का हर्ष प्रकाश भी इसरो पहुंचा था। हालांकि चंद्रयान 2 का संपर्क पृथ्‍वी से टूटने के बाद हर्ष को भी निराशा हुई। वह दानापुर के निजी स्कूल में आठवीं का छात्र है। हर्ष के पिता चितरंजन कुमार प्राइवेट कंपनी में काम करते हैं। हर्ष की चाहत है कि वह भी चांद पर पहुंचे।

हर्ष बताता है कि 18 अगस्त को उसने इसरो द्वारा आयोजित ऑनलाइन क्विज प्रतियोगिता में हिस्सा लिया था। 20 अंक के सवालों का जवाब महज सात मिनट में देकर वह विजेता बना। इसी आधार पर उसे प्रधानमंत्री के साथ चंद्रयान की लैंडिंग देखने के लिए चयन किया गया था।

हर्ष बताता है कि विज्ञान में उसकी शुरू से ही रुचि रही, इसलिए जब पिता को इसरो की इस प्रतियोगिता के बारे में पता चला तो उन्होंने रजिस्ट्रेशन करवा दिया। 28 अगस्त को फोन से हर्ष को जानकारी मिली कि उसका चयन हो गया है। 

हर्ष के पिता चितरंजन कहते हैं, मेरे लिए वह पल स्वर्णिम रहा, जब बेटे को प्रधानमंत्री से मिलने का मौका मिला। हर्ष कहता है, वह खुद भी चांद पर जाना चाहता है। उसकी रुचि स्पेस इंजीनियरिंग में है।

 

Posted By: Rajesh Thakur

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस