पटना, राज्य ब्यूरो। बिहार में किडनी मरीजों के लिए यह बड़ी खबर है। राज्‍य के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कहा है कि सभी सदर अस्पतालों में 31 मार्च से मुफ्त डायलिसिस और डिजिटल एक्सरे की सुविधा शुरू हो जाएगी। मंत्री बुधवार को स्वास्थ्य विभाग के सभागार में आठ सदर अस्पतालों व एक मेडिकल कॉलेज अस्पताल में 'कल्पना' सीटी स्कैन की सुविधा शुरू करने के बाद बोल रहे थे। पीपीपी मोड पर शुरू की गई सुविधा के लिए मरीजों को सीजीएचएस द्वारा निर्धारित दरों से कम कीमत चुकानी होगी।

पांडेय ने कहा कि दूर दराज क्षेत्रों में रहने वाले ग्रामीणों को अब सीटी स्कैन के लिए चक्कर नहीं लगाने होंगे। इसके पूर्व यह सेवा सभी मेडिकल कॉलेज अस्पतालों में उपलब्ध है। सरकारी अस्पतालों में मरीजों के अधिक से अधिक स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया कराई जा रही हैं।

मंत्री ने कहा कि  2018 में सभी जिलों के सदर अस्पतालों में सीटी स्कैन की सुविधा देने के उद्देश्य से पीपीपी. मोड में सीटी स्कैन सेंटर स्थापित करने का निर्णय लिया गया था। निविदा के जरिए एजेंसियों का चयन विभिन्न जिलों के लिए किया गया। अब तक 15 जिला अस्पताल में सीटी स्कैन सेंटर के लिए लेटर ऑफ इंटेंट जारी किया जा चुका है। जबकि, छह जिलों के लिए निविदा की गई है। जिन अस्पतालों में सीटी स्कैन सेंटर बनाए गए हैं वहां सीजीएचएस अस्पतालों के साथ ही बाजार दर से 80 फीसद कम दर पर स्कैन किया जाएगा। कार्यक्रम में प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत के साथ ही स्वास्थ्य सेवाएं आधारभूत संरचना निगम के प्रबंध निदेशक प्रदीप झा व कई अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

इन अस्पतालों में शुरू की गई सेवा 

नालन्दा, समस्तीपुर, भागलपुर, मुंगेर, मधुबनी, भोजपुर, रोहतास एवं जननायक कर्पूरी ठाकुर मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल, मधेपुरा

 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021