जागरण संवाददाता, पटना: स्थानीय सराफा बाजार में मंगलवार को मिलाजुला रुख देखने को मिला। चांदी का भाव 800 रुपये प्रति किलो लुढ़क गया। हालांकि सोना के भाव में 50 रुपये प्रति दस ग्राम की तेजी दर्ज की गई। लग्न की खरीदाारी चलने से बाजार में रौनक बनी हुई है। वैश्विक बाजार की लिवाली और बिकवाली से बाजार में तीव्र उतार-चढ़ाव भी देखने को मिल रहा है। चांदी का भाव आज 800 रुपये प्रति किलो लुढ़ककर 65200 रुपये पर आ गया। एक दिन पूर्व भी चांदी के भाव में 300 रुपये की गिरावट दर्ज की गई थी। इस तरह से दो सत्रों के कारोबार में चांदी के भाव में 1100 रुपये प्रति किलो की राहत मिल चुकी है।

सोना बिठूर का भाव आज 50 रुपये प्रति दस ग्राम मजबूत होकर 49,850 रुपये पर पहुंच गया। इसी तरह से सोना 22 कैरेट का भाव भी 50 रुपये प्रति दस ग्राम मजबूत होकर 49700 रुपये पर पहुंच गया। एक दिन पूर्व सोमवार को भी सोना का भाव 100 रुपये प्रति दस ग्राम मजबूत हुआ था। इस तरह से दो सत्रों के कारोबार में सोना का भाव भी 150 रुपये प्रति दस ग्राम मजबूत हो चुका है। सराफा कारोबारियों का कहना है कि घरेलू मांग इस समय मजबूत है। लग्न की खरीदारी चलने से वैवाहिक आभूषणों की मांग अच्छी निकल रही है। कोरोना के नियंत्रण में रहने से भी बाजार को बल मिला है। तय शादियों के टलने का सिलसिला थम गया है। निर्धरित तिथियों पर ही शादियों के होने से बाजार की रौनक बनी हुई है। वैश्विक बाजार में लिवाली चलने पर बाजार में मजबूती देखी जा रही है जबकि बिकवाली चलने पर गिरावट आ रही है। इसका भी असर स्थानीय सराफा बाजार पर पड़ रहा है। सोना और चांदी के भाव में आगे भी तल्खी बनी रहने की उम्मीद है।

Edited By: Akshay Pandey