पटना। इंटर की परीक्षा में ग्रामर के निरंतर अभ्यास से अंग्रेजी के पेपर में परीक्षार्थियों को अच्छे अंक प्राप्त हो सकते हैं। अंग्रेजी की परीक्षा 100 अंकों की होगी, जिसमें से 60 अंक ग्रामर से होंगे। 40 अंक के सवाल लिट्रेचर से पूछे जाएंगे। परीक्षा में 50 अंकों के वस्तुनिष्ठ सवाल होंगे, इसके लिए 100 सवाल पूछे जाएंगे। उसमें से किसी 50 सवालों को हल करना होगा।

राजधानी के रघुनाथ बालिका उ.मा.विद्यालय की अंग्रेजी की शिक्षिका डा.आरती सिन्हा का कहना है कि अंग्रेजी में स्पेलिग काफी मायने रखता है। परीक्षार्थियों को कोशिश करनी चाहिए की स्पेलिग में कोई गलती नहीं करें।

-------

लिट्रेचर के सवालों का

अभ्यास करना बहुत जरूरी

विषय विशेषज्ञों का कहना है कि ग्रामर के साथ-साथ लिट्रेचर पर जोर देना बहुत जरूरी है। लिट्रेचर से कुल 40 अंकों के सवाल होंगे। इसमें कविता एवं कवियों के नाम याद रखना बहुत जरूरी होता है। इसके अलावा स्टोरी और लेखकों के नाम से भी प्रश्न पूछे जाएंगे। लिट्रेचर से शार्ट एवं लांग आंसर के सवाल भी होंगे, जो पाठ्यक्रम पर आधारित होंगे।

::::::::::

ग्रामर के महत्वपूर्ण टापिक

टेंस

नरेशन

वायस

कामन एरर

प्रिपोजिशन

कंजक्शन

टाइप आफ सेंटेंसेज

फ्रेज

--------

10 अंकों के शार्ट प्रश्न होंगे

इंटर की परीक्षा में शार्ट प्रश्न 10 अंकों के होंगे। इसके लिए कुल 5 सवालों को हल करना होगा। प्रत्येक सवाल दो अंकों के होंगे। लांग प्रश्न छह होंगे, उसमें से तीन बनाना होगा। प्रत्येक के लिए पांच अंक निर्धारित होंगे। लेटर पांच अंकों का होगा।

------

शिक्षकों की सलाह

-ग्रामर के सवालों को नियमित रूप से अभ्यास करें

-हर टापिक को टच करना जरूरी

-माडल पेपर का एक सेट प्रतिदिन बनाएं

-स्पेलिग में गलती से बचें

-लेटर का फार्मेट ठीक से बनाएं

-ऐसे का टापिक और मैटर स्पष्ट होना चाहिए

-अंग्रेजी में लिखावट पर ध्यान देना जरूरी

==========

शिक्षिका : डा.आरती सिन्हा

अंग्रेजी शिक्षिका

रघुनाथ बालिका उ.मा.विद्यालय, कंकड़बाग

Edited By: Jagran