पटना, राज्य ब्यृूरो। Ganga Aarti in Bihar: राजधानी के गांधी घाट की तर्ज पर जल्द ही राज्य के दूसरे शहरों में भी नियमित गंगा आरती शुरू होगी। पर्यटन मंत्री नारायण प्रसाद (Minister of Tourism Narayan Prasad) के निर्देश पर विभाग ने इसको लेकर तैयारी शुरू कर दी है। सबसे पहले सात अक्टूबर को गोपालगंज के बैकुंठपुर में गंगा आरती का आयोजन किया जाएगा। मंत्री के अनुसार, यहां भी नियमित हर शनिवार व रविवार को गंगा आरती आयोजित की जाएगी। इसके बाद जल्द ही सोनपुर में हरिहर नाथ मंदिर के समीप घाट पर भी गंगा आरती शुरू की जाएगी। नवंबर से इसकी शुरुआत की जा सकती है। इसके बाद बक्सर, भागलपुर समेत अन्य जिलों में भी इसका विस्तार किया जाएगा। फिलहाल गांधी घाट पर हर शनिवार व रविवार को गंगा आरती का आयोजन किया जा रहा है।गंगा घाटों को पर्यटक केंद्र के रूप में विकसित करने के लिए इसकी शुरुआत की जा रही है। आरती में शामिल होने लोगों के लिए घाटों पर सुविधाएं भी बढ़ाई जा रही हैं, ताकि लोग सपरिवार गंगा आरती का आनंद ले सकें। 

एक अक्टूबर को 20 घाटों पर गंगा महाआरती, सात अक्टूबर को बैकुंठपुर में समापन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गर्वनेंस के 20 वर्ष पूरे होने पर भारतीय जनता पार्टी के द्वारा राज्य में बड़े पैमाने पर गंगा स्वच्छता व गंगा आरती का कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष मिथिलेश तिवारी ने बताया कि एक अक्टूबर को पटना के भ्रदघाट समेत बक्सर, भोजपुर, लखीसराय, बाढ़, मुंगेर, कटिहार, वैशाली, भागलपुर, नवगछिया, गया, पूर्णिया, गोपालगंज, छपरा, बेगूसराय व दरभंगा के 20 घाटों पर गंगा महाआरती का कार्यक्रम होगा। इसी दिन 71 घाटों पर स्वच्छता कार्यक्रम का भी आयोजन किया जाएगा।  नमामि गंगे योजना के संयोजक प्रभाकर मिश्रा ने बताया कि भाजपा कार्यकर्ता घाटों की सफाई करेंगे। घाटों को आकर्षक ढंग से सजाया जाएगा। शाम के समय हर घाट पर न्यूनतम 71 दीपक भी प्रवाहित किए जाएंगे।  सात अक्टूबर को गोपालगंज के बैकुंठपुर में बने नवनिर्मित आकर्षक घाट पर भव्य गंगा महाआरती के आयोजन के साथ कार्यक्रम का समापन होगा। इसमें भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल, उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद समेत भाजपा के सभी बड़े नेता उपस्थित रहेंगे। 

 

Edited By: Vyas Chandra